India- World देश-दुनिया

माँ ने की अपनी सात माह की बेटी की हत्या, मायके वाले बोले- हमें विश्वास नहीं

 

फोन कर महिला पुलिस से बोली- मैंने बच्ची का गला घोंट दिया, 

करनाल जिले में एक महिला ने अपनी सात माह की बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी। खबर सुनकर हर कोई सन्न है। मामला करनाल के गांव शेखपुरा खालसा का है। महिला ने घटना की सूचना स्वयं पुलिस को डायल-112 पर दी। सूचना मिलते ही पुलिस व एफएसएल टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि महिला ने ही फोन कर सूचना दी है कि उसने अपनी बच्ची का गला घोंट हत्या कर दी है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए करनाल भेज दिया है। वहीं महिला के मायके वालों ने मामले की जांच निष्पक्षता से कराने की मांग की है। गांव बयाना की रहने वाली महिला प्रियंका की शादी शेखपुरा गांव के संदीप के साथ वर्ष 2020 में हुई थी। संदीप पुलिस में नौकरी करता है और चुनाव के दौरान उसकी ड्यूटी कैथल में लगी थी।

महिला प्रियंका ने सोमवार की रात को अपनी सात माह की बेटी की हत्या कर दी। मंगलवार की अल-सुबह महिला ने घटना की सुचना डायल 112 पर दी। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी। सात माह की बेटी की हत्या से पूरे गांव में सनसनी फैल गई। महिला के पति संदीप ने बताया कि उसकी पत्नी पिछले काफी समय से डिप्रेशन में चल रही है और उसका इलाज भी चल रहा है। संदीप ने बताया कि उसकी पत्नी ने इस प्रकार कदम क्यों उठाया है, यह समझ से बाहर है। घटना की सूचना महिला के मायके वालों को भी दी गई।

करीब एक घंटे के बाद मायके वाले मौके पर पहुंचे और उन्होंने मामले में संदेह व्यक्त किया। मामले को लेकर सुसराल व मायके पक्ष में हल्की कहासुनी भी हुई। महिला के पति संदीप ने बताया कि वह अपनी पत्नी से बेहद प्यार करता था और वह मधुबन में ही तैनात था। हर रोज वह शाम के समय घर आ जाया करता था। निकाय चुनाव के दौरान उसकी ड्यूटी कैथल में लगी थी। वहीं महिला के पिता बीर सिंह का कहना है कि उसकी बेटी प्रियंका शिक्षित है और वह इस प्रकार का कार्य हरगिज नहीं कर सकती।

उन्होंने बताया कि प्रियंका कुछ समय से बीमार अवश्य है और दवाई चल रही लेकिन प्रियंका खुद ही अपने हाथों से अपनी ममता का गला नहीं घोट सकती है। प्रियंका के पिता ने पुलिस से पूरे मामले की निष्पक्षता से जांच करने की मांग की है। करीब दो माह पूर्व प्रियंका अपने मायके गई थी और प्रियंका ने उसे यह जरूर कहा था कि संदीप की शादी और कहीं करवा दो लेकिन उसे हल्के में लिया और अपनी बेटी को समझाया कि क्या तुम वहां खुश नहीं हो, परमात्मा ने तुम्हें फूल सी बच्ची भी दी है, उसका पालन-पोषण करो और अपने जीवन का निर्वाहन करो।

महिला के मायके वालों को यह विश्वास कतई नहीं है कि उनकी बेटी प्रियंका ने कार्य किया। थाना प्रभारी दीपक कुमार ने बताया कि गांव शेखपुरा खालसा में एक महिला ने डायल 112 पर फोन कर सूचना दी है कि उसने अपनी बच्ची का गला घोंट हत्या कर दी है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस हर पहलू पर मामले की जांच कर रही है।

Donate Now
Back to top button