Breaking NewsIndia- World देश-दुनियाSports खेलराजनीतीहरियाणा

मुख्यमंत्री ने लिया खेलो इंडिया यूथ गेम्स की तैयारियों का जायजा

देशभर से दस हजार खिलाड़ी हिस्सा लेंगे
खेलों में निरंतर आगे बढ़ रहा है हरियाणा : मनोहर लाल

चंडीगढ़, 4 दिसंबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि पंचकूला में खेलो इंडिया यूथ गेम्स के चौथे संस्करण के सफल आयोजन के लिए 31 दिसंबर तक सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाएंगी। 5 फरवरी से 14 फरवरी 2022 तक होने वाले इन खेलों में 25 प्रकार के विभिन्न खेलों का आयोजन किया जाएगा, जिनमें देश भर से लगभग 10 हजार खिलाड़ी भाग लेंगे। इन खेलों का शुभारंभ 5 फरवरी को पंचकूला के सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवीलाल स्टेडियम में होगा।

मुख्यमंत्री आज पंचकूला के ताऊ देवीलाल स्टेडियम में खेलो इंडिया यूथ गेम्स के लिए की जा रही तैयारियों का निरीक्षण करने उपरांत पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर प्रदेश के खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री सरदार संदीप सिंह भी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और खेल एवं युवा मामले मंत्रालय का खेलो इंडिया यूथ गेम्स की मेजबानी करने का अवसर हरियाणा को देने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री ने बताया कि खेलो इंडिया गेम्स के तहत 25 प्रकार के विभिन्न खेल आयोजित किए जाएंगे। इसमें 20 खेल ऐसे हैं जो पहले से आयोजित किए जा रहे हैं। इसके अलावा इस बार पांच प्रादेशिक खेल भी जोड़े गए हैं, जिनमें पंजाब का गतका, मणिपुर का थांग-ता, केरल का कलारीपयट्टू, महाराष्ट्र का मलखंभ और योगासन शामिल हैं । इन खेलों के लिए आवश्यक आधारभूत संरचना के विकास के लिए 250 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे, जिसमें 150 करोड़ रुपये बुनियादी ढांचे के विकास के लिए और 100 करोड़ रुपये अन्य उपकरणों व सुविधाओं के लिए खर्च होंगे।

उन्होंने कहा कि सभी खेलों के अनुसार विकसित किए जा रहे हैं बुनियादी ढांचे की सभी तैयारियां निर्धारित समय अर्थात 31 दिसंबर तक पूर्ण कर ली जाएंगी। खिलाड़ियों के ठहरने, खाने पीने और परिवहन की संपूर्ण व्यवस्था की जा रही है।

यह भी पढ़े    4357 करोड़ रुपये की अदायगी सीधे किसानों के खातों में की: जेपी दलाल

खेलों के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि पंचकूला के साथ- साथ अंबाला, शाहबाद, चंडीगढ़ और दिल्ली में इन खेलों का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अधिकतर खेलों के फाइनल मुकाबले 8 फरवरी से शुरू हो जाएंगे जिनका सीधा प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स चैनल के माध्यम से होगा।

खेलों के दौरान कोविड-19 के दिशा निर्देशों के अनुपालन के संबंध में पूछे गए प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के दिशा निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने बताया कि अभी जो कोरोना के नए वेरिऐंट का पता चला है, उसके दो मामले देश में मिले हैं, उसको लेकर भी स्वास्थ्य विभाग व अन्य सभी विभाग सतर्क हैं और किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह तैयार है ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा निरंतर खेलों में आगे बढ़ रहा है और राज्य सरकार हर वर्ष खेलों के बजट में वृद्धि कर रही है।  वर्ष 2014-15 में खेलों का बजट जहां 151 करोड़ रुपए था वह आज 2021-22 में 394 करोड रुपए हो गया है, जो कि दोगुना से भी अधिक है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा ‘कैच दैम यंग’ पॉलिसी के तहत बचपन से ही खेल प्रतिभाओं को तराशने के लिए 500 खेल नर्सरियां, जो कोविड-19 के कारण बंद हो गई थी उनको फिर से शुरू किया गया है। इसके अलावा, 500 और खेल नर्सरियों को विकसित किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर खेल स्टेडियमों का  नवीनीकरण किया जा रहा है। इसके अलावा, सरकार द्वारा मैपिंग भी करवाई जा रही है और जहां जहां खेल स्टेडियमों की संख्या कम है, वहां आवश्यकतानुसार खेल स्टेडियम बनाए जाएंगे।

यह भी पढ़े   जुनियर स्टेट बॉक्सिंग चैंपियनशिप अजीत बॉक्सिंग क्लब के मुक्केबाजों ने जीते पदक

मुख्यमंत्री ने कहा कि ओलंपिक खिलाड़ियों को तैयारी के लिए राज्य सरकार द्वारा 5 लाख रुपये की राशि एडवांस में देने की  पहल को भी खिलाड़ियों ने सराहा है। इसके अलावा हरियाणा अकेला ऐसा प्रदेश है जहां देश ही नहीं दुनिया में ओलंपिक विजेता खिलाड़ियों को सर्वाधिक राशि इनाम स्वरूप दी जाती है। खेलों में हो रही हरियाणा की प्रगति को देखते हुए अन्य प्रांत भी हरियाणा की खेल नीति का अध्ययन कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को मानसिक और शारीरिक रूप से खेलों के लिए तैयार करने के लिए पंचकूला में साइंटिफिक ट्रेनिंग एंड रिहैबिलिटेशन सेंटर बनाया जा रहा है। इसके अलावा, करनाल, हिसार, रोहतक और गुरुग्राम में भी इस तरह के केंद्र स्थापित किये जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कल दिव्यांग दिवस पर दिव्यांगजनों को तोहफा देते उन्होंने हर जिले के एक स्टेडियम में दिव्यांग खेल कॉर्नर बनाने की घोषणा की है।

इस अवसर पर खेल एवं युवा मामले विभाग के प्रधान सचिव श्री ए.के. सिंह, पंचकूला के उपायुक्त श्री महावीर कौशिक, पंचकूला के पुलिस आयुक्त श्री सौरभ सिंह, खेल एवं युवा मामले विभाग के निदेशक और ओएसडी, खेलो इंडिया श्री पंकज नैन और एसडीएम श्रीमती रिचा राठी भी उपस्थित रहे।

Donate Now
Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 39,237,264Deaths: 489,409
Close
Close