Breaking NewsFarmer Agitationराजनीतीहरियाणा

पर्सनल और धार्मिक काम के लिए जा रहे बीजेपी जेजेपी नेताओं का विरोध नहीं किसान, रानैतिक आयोजनों का विरोध रहेगा जारी

There is no opposing to BJP JJP leaders going for personal and religious work, farmers will continue to oppose political events

सोनीपत l सिंघु बॉर्डर पर लगातार किसानों का आंदोलन जारी है ।  सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं की बैठक हुई lजिसमें यह फैसला लिया गया कि अब किसान भाजपा.जजपा नेताओं का विरोध नहीं करेंगे, बशर्ते वह किसी सरकारी कार्यक्रम का हिस्सा न बन रहे हों। मोर्चे के फैसले के मुताबिकए यदि भाजपा.जजपा नेता अपने किसी निजी कार्य से बाहर निकला है तो उसका विरोध नहीं किया जाएगा।

बैठक के बाद प्रेसवार्ता कर किसान नेताओं ने जानकारी दी कि 26 जून को देशभर के राजभवनों का किसान के चेराव करेंगे और वहां धरने पर बैठने के बाद राज्यपाल्र को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर तीनों कृषि कानूनों को रद्द करवाने की मांग करेंगे। उन्होंने बताया कि सरकार हमें अनुमति दे या ना दे लेकिन सभी राज भवनों के सामने हम अपना धरना देंगे और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेंगे।

इसके अलावा आने वाली 4 जून को गुरु अर्जुन तेग बहादुर का बलिदान दिवस मनाया जाएगा। और आने वाली 24 जून को रखविंद्र
नाथ टैगोर की जयंती भी सभी बॉर्डरों पर किसानों द्वारा मनाई जाएगी।

इसी दौरान यह भी बताया गया कि अगर हरियाणा में जेजेपी और बीजेपी नेता किसी पर्सनल काम से जा रहे हैं तो
उसका विरोध नहीं करेंगेए लेकिन इसमें किसान नेताओं द्वारा बदलाव किया गया है। किसान नेताओं का कहना है
कि शहर में किसी भी सरकारी कार्यक्रम में अगर नेता जाते हैं तो विरोध करेंगे। अगर वह कहीं किसी निजी काम से
जा रहे हैं तो किसान विरोध नहीं करेंगेए लेकिन हरियाणा के गांव में किसी भी कार्य के लिए नेताओं को नहीं घुसने
दिया जाएगा।

यह भी पढ़े   उपायुक्त व संबंधित अधिकारियों को मांग पत्र देने के बावजुद भी नहीं हुआ समस्या का समाधान

बैठक के बाद प्रेसवार्ता कर किसान नेताओं ने जानकारी दी कि 26 जून को देशभर के राजभवनों का किसान के चेराव करेंगे और वहां धरने पर बैठने के बाद राज्यपाल्र को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर तीनों कृषि कानूनों को रद्द करवाने की मांग करेंगे। उन्होंने बताया कि सरकार हमें अनुमति दे या ना दे लेकिन सभी राज भवनों के सामने हम अपना धरना देंगे और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेंगे।

इसके अलावा आने वाली 4 जून को गुरु अर्जुन तेग बहादुर का बलिदान दिवस मनाया जाएगा। और आने वाली 24 जून को रविंद्र
नाथ टैगोर की जयंती भी सभी बॉर्डरों पर किसानों द्वारा मनाई जाएगी।

इसी दौरान यह भी बताया गया कि हरियाणा के गांव में किसी भी कार्य के लिए नेताओं को नहीं घुसने
दिया जाएगा। लेकिन इसमें किसान नेताओं द्वारा बदलाव किया गया है। किसान नेताओं का कहना है
कि शहर में किसी भी सरकारी कार्यक्रम में अगर नेता जाते हैं तो विरोध करेंगे। अगर वह कहीं किसी निजी काम से जा रहे हैं तो किसान विरोध नहीं करेंगे l अगर हरियाणा में जेजेपी और बीजेपी नेता किसी पर्सनल काम से जा रहे हैं तो
उसका विरोध नहीं करेंगे l

Donate Now
Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 34,633,255Deaths: 473,326
Close
Close