Breaking Newsराजनीतीस्थानीय खबरेंहरियाणा

प्रदेश सरकार स्वयं अपनी ही जीरो टोलरेंस की नीति पर लगा रही है प्रश्रचिह्न : दिलबाग जांगड़ा

बहाली की मांग को लेकर बर्खास्त पीटीआई का धरना 437वें दिन भी रहा जारी

धरने पर बैठे बर्खास्त पीटीआई ने पीटीआई पेपर में हुए घोटालें की जांच की मांग उठाई

भिवानी, 26 अगस्त : एक तरफ जहां बढ़ती महंगाई आज आम आदमी की कमर तोडऩे का काम कर रही है, वही देश व प्रदेश में बढ़ रही बेरोजगारी लोगों के मुंह से निवाला छीन रही है। इसी बेरोजगारी की मार झेल रहे बर्खास्त पीटीआई पिछल सवा वर्ष से अपनी बहाली की मांग को लेकर संघर्षरत्त है, लेकिन प्रदेश सरकार उनकी मांग सुनने की बजाए सिर्फ वायदाखिलाफी कर रही है।

 

यह बात स्थानीय लघु सचिवालय के समक्ष बहाली की मांग को लेकर पिछले 437 दिनों से धरने पर बैठे बर्खास्त पीटीआई को संबोधित करते हुए हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति के जिला प्रधान दिलबाग जांगड़ा ने कही। इस दौरान धरनारत्त पीटीआई ने पीटीआई भर्ती परीक्षा में घोटाले की जांच की मांग भी की। धरने को संबोधित करते हुए दिलबाग जांगड़ा ने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने की बात करने वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में ही स्कूली स्तर के खिलाडिय़ों को तैयार करने वाले पीटीआई को बर्खास्त कर 1983 परिवारों को भूखा मारने का काम किया जा रहा है।

 

उन्होंने कहा कि ओलंपियन खिलाडिय़ों ने भी माना है पीटीआई ही स्कूली स्तर के खिलाडिय़ों को तैयार करते है, जो कि राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में देश का नाम विश्व पटल पर चमकाते है, इसके बावजूद भी प्रदेश सरकार ने पीटीआई को बर्खास्त कर खिलाडिय़ों व देश के साथ अन्याय किया है। प्रदेश सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए दिलबाग जांगड़ा ने कहा कि पीटीआई के पेपर में हुए घोटाले की जांच आज तक भी नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खुद ही अपनी जीरो टोलरेंस की नीति पर प्रश्रचिह्न लगा रही हैं।

यह भी पढ़े   किसान आंदोलन के रुझान जारी- पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में बीजेपी का नहीं खुला खाता

 

उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग की कि पीटीआई भती परीक्षा की जांच होनी चाहिए तथा बर्खास्त किए पीटीआई को फिर से बहाल करें, नहीं तो बर्खास्त पीटीआई प्रदेश भर में बड़ा आंदोलन छेडऩे को मजबूर होंगे। वीरवार को क्रमिक अनशन पर मदनलाल सरोहा, उदयभान, सुरेंद्र सिंह, कर्मजीत रहे।

 

इस अवसर पर राज्य संयोजक राजेश ढ़ांडा, वरिष्ठ उपप्रधान विरेंद्र घणघस, जिला प्रधान महेंद्र सिंह श्योराण, राजेश सभ्रवाल, राजेश लांबा, भूप सिंह डीपीई, ओमप्रकाश बंसल, सुनील गोलपुरिया, अशोक कटारिया, रामबीर तिगड़ाना, मा. हरीश गोच्छी, गौरक्षक संजय परमार, हजरस कोषाध्यक्ष रामनिवास तालु, मा. धर्मबीर बारवास, जरनैल सिंह पीटीआई, बलजीत तालु, सुरेश हैडमास्टर, राजेश कितलाना, अमित कुमार, मुकेश कुमार, सुरेंद्र सिंह, राजपाल यादव, जिले सिंह, सतीश यादव, सुनील जांगड़ा, अनिल कुमार सहित अनेक पीटीआई मौजूद रहे।

Donate Now
Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 34,108,996Deaths: 452,651
Close
Close