Breaking NewsFarmer AgitationIndia- World देश-दुनियाराजनीतीहरियाणा

सिरसा में किसानों के दो घंटे बाजार बंद की तैयारियां मुक्कमल

राजेद्र कुमार
सिरसा 22 जुलाई। हरियाणा विधानसभा के डिप्टी स्पीकर रणबीर सिंह गंगवा की सरकारी गाड़ी पर बीती 11 जुलाई को चौधरी देवीलाल विवि परिसर के बाहर पथराव को लेकर सिरसा सिविल लाइन थाना पुलिस द्वारा दो नामजद सहित सैंकड़ाभर किसानों के खिलाफ दर्ज किये गए मुकदमें को खारिज व पांच गिरफ्तार किये गए किसानों को रिहा करने की मांग पर शुक्रवार को सिरसा के दो घंटे बाजार बंद की तैयारी किसान जत्थेबंदियों द्वारा मुक्कमल कर ली गई है। वहीं किसानों के बाजार बंद के आह्वान के बाद जिला प्रशासन भी अपने स्तर पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध करने में जुट गया है।
पुलिस अधीक्षक अर्पित जैन के अनुसार शहर के सभी थानों व चौकियों के प्रभारियों को अपने-अपने क्षैत्र में अलर्ट रहने का कहा गया है वहीं रेपिड एक्शन फोर्स के जवान व पुलिस अधिकारी बाजार में पेट्रोलिग करते रहेंगे। सरकारी संपतियों पर विशेष निगरानी रखी जाएगी।
          वहीं दूसरी ओर लघु सचिवालय के समक्ष पक्का मोर्चा पर आमरण अनशन पर बैठे सयुंक्त किसान मोर्चा के नेता बलदेव सिंह सिरसा की सेहत में पांचवे दिन निरंतर गिरावट जारी है। नागरिक अस्पताल के डा.पंकज पर आधारित तीन चिकित्सकों के दल ने बलदेव सिरसा का स्वास्थ्य परीक्षण किया।
उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य में निंरतर गिरावट आ रही है इसलिए हल्का भोजन,रस इत्यादि लेना चाहिए। बारिश के कारण बलदेव सिंह सिरसा को धरनास्थल पर ही एक निजी संस्था की एम्बुलेंस में लेटाया गया है। फिलहाल बलदेव सिंह सिरसा मात्र नींबू पानी ले रहे हैं। वहीं जिला प्रशासन की ओर से आज भी धरनास्थल,उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला व बिजली मंत्री रणजीत सिंह के आवासों के इर्द गिर्द भारी पुलिस बल तैनात रहा।
     किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा ने मीडिया को बताया कि आखिर जीत तो किसान की ही होगी सरकार चाहे जितने मर्जी हथंकडे अपना ले। किसानों ने दिल्ली में संसद भवन के बाहर किसान संसद चलाने की बात कही जो चल रही है। हरियाणा,पंजाब व राजस्थान में टोल नाके बंद पड़े हैं वहीं उत्तर प्रदेश में हो जाएंगे।
उन्होंने संसद के अंदर कृषि कानूनों को लेकर आवाज बुलंद करने वाले सभी दलों के सांसदों का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि अगर किसानी जिंदा रहेगी तो देश जिंदा रहेगा।  किसान आदोंलन ने देश के किसान,कर्मचारी,छोटे व्यापारी,दुकानदार को एक कतार में खड़ा करने का काम किया है। कमेरे वर्ग के एक मंच पर आ जाने से आदोंलन को बल मिला है इससे कार्पोरेट घरानों में चिंता बढेगी।
     बलदेव सिंह सिरसा के नित्यप्रति गिर रहे स्वास्थ्य की खबर के बाद उनके दूर करीब के रिश्तेदार यहां पहुंचने शुरू हो गए हैं। आज अमृतसर के एक निजी स्कूल में पांचवी कक्षा में पढ़ रहे पोते कुवंर महताब सिंह ने काफी देर तक उनसे बातचीत की। कुंवर महताब सिंह ने कहा कि देश खेती पर टिका है अगर एक किसान खेती के लिए कुर्बानी दे तो इससे बढ़कर जिंदगी में क्या मौका मिल सकता है। कुवंर महताब सिंह ने बताया कि अगर मेरे दादा के प्राण चले जाते हैं तो सीधे तौर पर केंद्र सरकार जुम्मेवार होगी यह बात उनके दादा ने बातचीत में उसे कही है। वहीं धरनास्थल पर पहुंच रही महिलाएं व पुरूष भी उनसे मिलकर अच्छे स्वास्थ्य की अरदास कर रहे हैं। किसानों में बलदेव सिंह से मिलने के प्रति काफी उत्सुकता देखने को मिली।
    हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने बताया कि बारिश के बावजूद किसान पक्का मोर्चा पर डटे हैं,महिलाओं की संख्या भी वर्णनीय है। आमरण अनशन पर बैठे किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा की सेहत का ख्याल रखते हुए एक निजी एम्बुलेंस का सहारा लिया गया है मगर कोई चिकित्सीय उपकरणों की सहायता नहीं ली जा रही।
उन्होंने बताया कि व्यापारी संगठन किसानों के समर्थन में शुक्रवार को सुबह 8 बजे से 10 बजे तक दो घंटे पूर्णत्या बाजार बंद रखेंगे ,इसके बाद दुकानदार पक्का मार्चा पर पहुंचकर अपना समर्थन देंगे। उन्होंने कहा कि सिरसा से दिल्ली संसद तक किसानों का जत्था हर रोज जा रहा है। आज हरियाणा किसान मंच के पांच व हरियाणा किसान सभा के तीन सदस्य दिल्ली मार्च में शामिल होने गए हैं।
उधर,संयुक्त किसान मोर्चा के नेता और अखिल भारतीय किसान सभा (एआईकेएस) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष स्वर्ण सिंह विर्क ने आमरण अनशन पर बैठे किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा का हाल-चाल जानने के बाद किसानोंं को सम्बोधित करते हुए कहा कि ‘मोदी सरकार किसानों पर दर्ज देशद्रोह जैसे मुकदमों को रद्द करे और तुरन्त किसान नेताओं से बातचीत कर उनकी मांगों को स्वीकार करे। अंग्रेजी सरकार द्वारा जनता को दबाने के लिए जिस देशद्रोह के कानूनों को बनाया गया था, उसी का दुरूपयोग करके मौजूदा सरकार आंदोलनकारियों की आवाज को दबाने का काम रही है।

Donate Now
Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 33,347,325Deaths: 443,928
Close
Close