Breaking NewsCrimeIndia- World देश-दुनियाराजनीतीसभी खबरेंस्थानीय खबरें

यही है असली खेला ! सस्ती जमीन लो और महंगी राम जन्म भूमि ट्रस्ट को बेचो

20 लाख की जमीन 2 महीने 19 दिन में हो गई अढ़ाई करोड़ की: राम जन्म भूमि ट्रस्ट का एक और कारनामा

This is the real game! Take cheap land and sell it to expensive Ram Janmabhoomi Trust

आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह कहा कि डेढ़ साल बाद भी प्रभु श्रीराम के मंदिर का निर्माण कार्य गति नहीं पकड़ पाया है तो इसकी वजह भाजपा नेताओं की चंदा चोरी है। भाजपा के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय, उनके भतीजे और आरोपों में घिरे ट्रस्ट के पदाधिकारियों के खाते की जांच करा ली जाए तो यह साबित हो जाएगा। संजय सिंह ने आरोप लगाया कि मेयर के भतीजे ने 20 फरवरी को एक जमीन 20 लाख की खरीदी और 11 मई को वही ज़मीन राम जनभूमि ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेच दी।

वह शनिवार को यहां पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने प्रदेश सरकार से मांग की कि फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाकर राम मंदिर के नाम पर हुई भूमि खरीद में धांधली की सुनवाई हो और चंदा चोरों को जेल भेजा जाए। साथ ही दो करोड़ की जमीन 18.50 करोड़ रुपये में खरीदने के मामले में छह दिन बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होने पर अफसोस जताया।

यह भी पढ़े   हरियाणा: कोरोना टेस्टिंग में आई तेज़ी, 5 प्राइवेट लैब को दी मंजूरी

नए दस्तावेज सामने लाते हुए सांसद ने बताया कि अयोध्या के कोट रामचंदर में 14 लाख 80 हजार के मालियत की जमीन जगदीश प्रसाद को महंत देवेंद्र प्रसाद से 10 लाख रुपये में मिल जाती है, मेयर के भतीजे दीप नारायण को इसी इलाके में 35 लाख 60 हजार की जमीन 20 लाख रुपये मिल जाती है और श्री रामजन्म भूमि ट्रस्ट को एक करोड़ 60 लाख की जमीन चार करोड़ में मिलती है। इस पूरे ‘खेल’ में भाजपा के मेयर और उनके भतीजे का नाम भी सामने आ रहा है।

Donate Now
Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 34,108,996Deaths: 452,651
Close
Close