हरियाणा

बिजली बिलों पर दोगुनी सिक्युरिटी राशि वसूली का फैसला तुरंत वापस ले सरकार : सविता मान

भिवानी, 7 अप्रैल। बिजली बिलों पर दोगुनी सिक्युरिटी राशि वसूल करके
सरकार चोर दरवाजे से लोगों  को लूटने की कोशिश कर रही है। यह बात वरिष्ठ
कांग्रेस नेत्री सविता मान ने बिजली बिलों पर सरकार द्वारा जारी किए गए
फरमान की कड़े  शब्दों में आलोचना करते हुए कही। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन
व महंगाई ने आम आदमी की कमर पहले ही तोड़ दी है और उसे अपनी मूलभूत चीजों
को जुटाने में ही पसीने छूट रहे हैं। ऐसी परिस्थिति में सरकार द्वारा
प्रदेश के लोगों पर बिजली बिलों पर दोगुनी सिक्यूरिटी राशि भरने का जो
फरमान जारी किया है व नाजायज और अन्याय पूर्ण है। उन्होंने कहा कि प्रदेश
का आम आदमी पहले ही कोरोना के संकट के दौर से गुजर रहा हे और उससे उभर
नहीं पा रहा उस पर सरकार द्वारा भारी-भरकम बिल की राशि वसूलने से उनके
आर्थिक हालात और बिगड़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट व लॉकडाउन के
दौरान आम आदमी को बिल भरना मुश्किल हो रहा है ऐसे में वे बिजली बिल को
दोगुना राशि कैसे भर पाएंगे। सरकार को चाहिए कि कोरोना संकट के कारण आथिक
परेशानियों से जूझ रहे लोगों के लिए कोई राहत का पैकेज लेकर आए लेकिन वह
तो आम जनता की जेब काटने में लगी हुई । उन्होंने कहा कि सरकार डिफाल्टर
उपभोक्ताओं का बोझ ईमानदार उपभोक्ताओं पर डालना चाहती है। सरकार के इस
फैसले से लोगों में भारी रोष है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार एक तरफ तो
प्री-पेड कार्ड के आधार मीटर चालू करने बातें कर रही है वहीं दूसरी ओर
उपभोक्तओं से सिक्युरिटी राशि वसूली कर रही है जो किसी भी दृष्टि से
तर्कसंगत नहीं है। क्योंकि इसके माध्यम से उपभोक्ता को बिजली प्री-पेड
सिस्टम से ही मिलेगी। इससे सरकार का ईमानदार ग्राहकों को लूटने का इरादा
साफ जाहिर होता है। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि वे प्रदेश की
जनता पर हो रहे अन्या को कांग्रेस पार्टी किसी भी सुरत में बर्दास्त नहीं
करेगी वह आम जनता के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। उन्होंने मांग
करते हुए कहा कि सरकार बिजली बिलों के साथ डबल सिक्युरिटी राशि वसूल करना
बंद करे और अपने फरमान को तुरंत प्रभाव से वापस ले।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 14,291,917Deaths: 174,308
Close
Close