हरियाणा

किसानों पर लाठीचार्ज के विरोध में कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

डीसी के मार्फत राज्यपाल को भिजवाया ज्ञापन 

चरखी दादरी, 7 अप्रैल।
रोहतक में गत तीन अप्रैल को किसानों पर हुए पुलिस के लाठीचार्ज के विरोध में कांग्रेस ने जिला सचिवालय के बाहर प्रदर्शन किया और डीसी के मार्फत राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में राज्यपाल से लाठीचार्ज के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की गुजारिश की गई है।
पूर्व कैबिनेट मंत्री किरण चौधरी वह पूर्व सांसद श्रुति चौधरी के दिशा निर्देश पर कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता बुधवार को यहां किला ग्राउंड में एकत्र हुए। रोहतक में किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में कार्यकर्ताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और लाठीचार्ज के लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की मांग की। इसके बाद कांग्रेसी सचिवालय पहुंचे और राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन की प्रति डीसी के प्रतिनिधि एसडीएम को सौंपी।
ज्ञापन में कहा गया है कि तीनों कृषि कानून रद्द कराने के किसानों के आंदोलन को चार महीने बीत चुके हैं और 300 किसानों की मृत्यु हो चुकी है, लेकिन सरकार किसानों की मांग मानने के बजाय लाठी-डंडे के जोर पर आवाज को दबा रही है।
ज्ञापन में राज्यपाल महोदय से तीन अनुरोध किए गए हैं। पहला, रोहतक में किसानों पर लाठियां बरसाने के आदेश देने वाले अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई करने का सरकार को निर्देश देने, दूसरा- किसानों के खिलाफ अमर्यादित बयानबाजी करने वालों पर कार्रवाई और राज्यपाल से तीसरा अनुरोध किया है कि तीनों कृषि कानून रद्द कराने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए राज्य सरकार को नसीहत दें।
इस दौरान पूर्व विधायक धर्मपाल सांगवान, अजीत फौगाट, दिलबाग निमड़ी, आनंद एडवोकेट, नवीन एडवोकेट,  रणधीर घिकाड़ा, डॉ. ओम प्रकाश, जिला पार्षद महेंद्र सोनी, सुदीप सांगवान, रणबीर फौजी, विजय खोरड़ा, राजू मान, जगदीप सांगवान, जोरावर चरखी, बलजीत फौगाट, सुशील धानक, अजित भागवी, भूप कमोद, सज्जन डाडमा, सुमित शर्मा, राकेश बेरला, महेंद्र भारद्वाज, जमात अली, हैप्पी अटेला, प्रेम देवी अचीना, करतार मेहला, बिजेन्दर चौहान, मंजीत सरपंच, रामोतार खोरडा, रविंद्र  गोपी, मोती राम जांगड़ा, रामभक्त यादव, राजेश यादव, राज कुमार जेवली, जय सिंह कटारिया, सतपाल अटेला आदि मौजूद रहे।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 14,291,917Deaths: 174,308
Close
Close