Breaking Newsबिज़नेसराजनीती

1,55,645 लाख करोड़ का बजट पेश, कोई नया टैक्स नहीं-हेल्थ, एग्रीकल्चर व इंफ्रास्ट्रक्चर पर विशेष जोर

Budget of 1,55,645 lakh crore presented, no new tax - special emphasis on health, agriculture and infrastructure

हरियाणा विधानसभा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा शुक्रवार को पेश किए गए राज्य के पेपरलेस बजट में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी के लिए कुछ न कुछ खास रहा। इस बार के बजट में जहां सरकार ने कोई नया टैक्स नहीं लगाया है, वहीं हेल्थ, एग्रीकल्चर और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर पर विशेष जोर दिया गया है। बजट में गुरुग्राम और पिंजौर में फिल्म सिटी बनाने की घोषणा की गई है। खट्टर सरकार ने आज वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 1,55,645 लाख करोड़ रुपये से अधिक का प्रस्तावित बजट पेश किया। मुख्यमंत्री खट्टर के पास वित्त मंत्रालय का प्रभार भी है। हरियाणा सरकार का यह बजट इससे पिछले वित्त वर्ष यानी 2020-21 के 1,37,738 करोड़ रुपये के बजट से 13 प्रतिशत अधिक है। 

वृद्धावस्था पेंशन 2,500 रुपये मासिक करने का ऐलान

बजट भाषण के दौरान सीएम खट्टर ने एक अप्रैल से वृद्धावस्था पेंशन को बढ़ाकर 2,500 रुपये मासिक करने का प्रस्ताव किया। अभी यह 2,250 रुपये है। खट्टर ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने असाधारण चुनौतियां पैदा की हैं और इसने हमें कई सबक भी सिखाएं हैं।

कृषि क्षेत्र के लिए कई बड़ी घोषणाएं

उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि विशेषरूप से इस संकट के समय बजट में उन क्षेत्रों को प्राथमिकता दी जाए, जो अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार के लिए जरूरी है। हमने स्वास्थ्य, कृषि और बुनियादी ढांचे को प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में रखा है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार हरियाणा की आर्थिक वृद्धि के लिए किसानों को समर्थन जारी रखेगी। बजट में कृषि क्षेत्र के लिए 6,110 करोड़ रुपये के व्यय का प्रस्ताव किया गया है। यह 2020-21 के 5,052 करोड़ रुपये के व्यय की तुलना में 20.9 प्रतिशत अधिक है। इसमें से 2,998 करोड़ रुपये कृषि और कृषक कल्याण, 489 करोड़ रुपये बागवानी, 1,225 करोड़ रुपये पशुपालन और डेयरी, 125 करोड़ रुपये मत्स्यपालन और 1,274 करोड़ रुपये सहकारिता के लिए रखे गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार किसानों की आमदनी दोगुना करने को प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि हम अपने किसानों के ऋणी हैं जिन्होंने अपनी मेहनत से आज हरियाणा को देश का प्रमुख खाद्यान्न उत्पादक प्रदेश बनाया है। कृषि हमारी अर्थव्यवस्था का आधार है। हम किसानों की आय को दोगुना करने को प्रतिबद्ध हैं। 2021-22 में स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए आवंटन बढ़ाकर 7,731 करोड़ रुपये किया गया है। 2020-21 में यह 6,433 करोड़ रुपये है।

यह भी पढ़े   वीर चक्र विजेता पूर्व सैनिक के घर चोरी, 2 सेवा मैडल सहित कीमती सामान ले उड़े चोर

नौवीं से 12वीं कक्षा तक शिक्षा मुफ्त करने की घोषणा

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत सरकार की योजना कक्षाओं (क्लासरूम) के ढांचे का अपडेट करने की है। सभी सरकारी स्कूलों में प्रौद्योगिकी आधारित पढ़ाई के लिए 700 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। यह आवंटन डिजिटल टैबलेट, डिजिटल कक्षा आदि के लिए है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने सभी सरकारी स्कूलों में सभी श्रेणियों के बच्चों के लिए नौवीं से 12वीं कक्षा तक शिक्षा मुफ्त करने की घोषणा की है। बजट प्रावधानों के अनुसार बच्चों को गुणवत्ता वाली शिक्षा और अवसरों के लिए 192 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। बजट में वंचित समूहों के लिए विशेष शिक्षा क्षेत्र (एसईजेड) बनाने का प्रस्ताव किया गया है। इससे इन समूहों के बच्चों के नामांकन में सुधार होगा। इन एसईजेड में छात्राओं को ऊंची वित्तीय सहायता के लिए 114.52 करोड़ रुपये का कोष बनाया गया है।

एक लाख गरीब परिवारों की आय बढ़ाएगी सरकार

खट्टर ने मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान अभियान की भी घोषणा की। इस अभियान के तहत परिवार पहचान पत्र के सत्यापित आंकड़ों के जरिये राज्य के सबसे गरीब एक लाख परिवारों की पहचान की जाएगी। ऐसे परिवारों को सालाना न्यूनतम 1.80 लाख रुपये की आमदनी तक पहुंचाने के लिए कई उपाय किए जाएंगे। इनमें ऐसे परिवारों की शिक्षा, कौशल विकास, वेतन रोजगार, स्व रोजगार और रोजगार सृजन शामिल है।

बता दें कि, इस बार बजट व्यय में 25 प्रतिशत या 38,718 करोड़ रुपये पूंजीगत व्यय और 75 प्रतिशत या 1,16,927 करोड़ रुपये राजस्व व्यय है। बजट अनुमानों के अनुसार राजस्व घाटा 29,193 करोड़ रुपये (राज्य सकल घरेलू उत्पाद का 3.29 प्रतिशत) रहने का अनुमान है। चालू वित्त वर्ष में इसके 20,856 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। मार्च, 2020 तक हरियाणा पर कर्ज देनदारी बढ़कर 2,29,976 करोड़ रुपये या राज्य सकल घरलू उत्पाद (जीएसडीपी) के 25.92 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान है। मार्च, 2021 तक इसके 1,99,823 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है।

यह भी पढ़े   गहरे समुद्र डूबते तो कोई गम ना था ! कश्ती वहां डूबी जहाँ पानी कम था !! BJP प्रदेश सचिव जवाहर सैनी की व्यथा
बजट में गुरुग्राम के लिए हुईं ये घोषणाएं 

  • इस बार के बजट में गुरुग्राम और पिंजौर में फिल्म सिटी बनाने की घोषणा की गई है।
  • गुरुग्राम में महिला आईआरबी बटालियन भी बनेगी।
  • सोहना में 1400 एकड़ भूमि पर औद्योगिक मॉडल टाउनशिप विकसित की जा रही है। यह टाउनशिप केएमपी पर निकट होगी।
  • आईएमटी सोहना में 7083 करोड़ के निवेश और 7000 रोजगार सृजित करने क्षमता वाला एक मेगा प्रोजेक्ट स्थापित हो रहा है। इस प्रोजेक्ट के लिए 178 एकड़ भूमि दी है।
  • गुरुग्राम में पुर्नवास केंद्र खुलेगा, नवीनतम विश्वस्तरीय खेल चिकित्सा उपकरणों से लैस होंगे, योग्य कर्मचारियों और मनोवैज्ञानिक व फिजियोथैरिपस्ट द्वारा संचालित होंगे। 

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 14,291,917Deaths: 174,308
Close
Close