हरियाणा

ऑनलाईन ट्रांसफर में दूर-दराज स्थानांतरित लिपिकों का समायोजन न होने पर होगा आंदोलन: बराड़

राजेंद्र कुमार
सिरसा,27 फरवरी। हरियाणा एजुकेशन मिनिस्ट्रीयल स्टाफ  एसोसिएशन सम्बद्ध सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा जिला कमेटी सदस्य अमरजीत बराड़ ने बताया कि भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार सार्वजनिक सेवा के क्षेत्र का बड़ी तेजी के साथ निजीकरण कर पूंजीपतियों का खजाना भरने में जुटी हुई है।
उन्होंने कहा कि नौकरियों के अवसर खत्म किये जा रहे हैं। बेरोजगारी, महंगाई चरम सीमा पर है, शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन, रेल, बैंक बीमा सेवाएं आम जन से छीनी जा रही हैं। सरकारी विभागों से लगातार कर्मचारी सेवा निवृत्त हो रहे हैं तथा खाली पदों पर भर्ती नहीं की जा रही। जिससे सरकार की रीढ़ कहलाने वाले मिनिस्ट्रीयल स्टाफ  कर्मियों पर वर्क लोड बढ़ता जा रहा है। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर आगामी 28 मार्च तक राज्यभर में मंत्रियों के आवासों की घेराबंदी करने का कार्यक्रम आयोजित किया गया है, जिसमें शिक्षा विभाग मिनिस्ट्रीयल स्टाफ कर्मी भी ताल ठोकेंगे। अमरजीत बराड़ ने कहा कि सरकार व शिक्षा सदन में बैठे आला अधिकारी फील्ड मिनिस्ट्रीयल स्टाफ कर्मियों की कोई सुनवाई नहीं कर रहे। वेतनमान की बात हो या पदोन्नति मिनिस्ट्रीयल स्टाफ  लगातार पिछड़ता जा रहा है। संगठन लगातार मांग कर रहा है कि ऑन लाईन ट्रांसफर में दूर-दराज स्थानांतरित का समायोजन, एसीपी प्रमोशनल पद, पुरानी पेंशन, वरिष्ठता सूची अपडेट, पे-लेवल 35400, खाली पदों पर स्थाई भर्तियां व पदोन्नतियां, पदोन्नति में सेवाकाल की शर्त को कम करने, टाईप टेस्ट, एसईटीसी की शर्त समाप्त, डीए पर रोक हटाने की मांगों को लेकर शिक्षा विभाग मिनिस्ट्रीयल स्टाफ  कर्मचारी आंदोलनरत हैं, लेकिन सरकार के कानों पर कोई जूं नहीं रेंग रही। इसलिए राज्यभर में मंत्री आवास घेराबंदी कार्यक्रम में कर्मचारी बढ़चढ़कर भाग लेंगे।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 14,291,917Deaths: 174,308
Close
Close