हरियाणा

कोरोना महामारी के चलते शुरू नही हो पाई नए सत्र की खेल नर्सरियां 

राजेन्द्र कुमार
सिरसा,13जनवरी। हरियाणा में खेल विभाग द्वारा  खोली गई खेल नर्सरी को शुरू करवाने की कोच व खिलाड़ियों ने मांग उठाई। खेल कोच व खिलाड़ियों ने बुधवार को जिला खेल अधिकारी ललीता मलिक को ज्ञापन सौंपा।
गौरतलब है कि खेल विभाग द्वारा
खेल नीति के तहत खेल नर्सरी खोलने की योजना बनाई गई। जिसके तहत खेल विभाग द्वारा प्रदेश में हर जिले में 10 लड़कियों और 10 लड़कों की खेल नर्सरी खोली जानी थी। जिले में वर्ष 2018 में 14 विभिन्न खेलों की खेल नर्सरी शुरू हुई। विभाग द्वारा खोली गई एक खेल नर्सरी में 25-25 खिलाड़ी को रखा गया।
कोरोना काल के दौरान 22 मार्च 2020 से खेल नर्सरियों को बंद कर दिया गया।
इसके खेल कोचों ने खिलाड़ियों को आॅनलाइन ही प्रशिक्षण देने का कार्य किया। मगर अभी तक खेल कोचों को अभी तक मानदेय नहीं मिला है। इन खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने वाले खेल कोच को प्रति माह 20 से 25 हजार रुपये वेतन दिय जाते हैं। खेल कोच प्रकाश चंद्र, धर्मपाल, मंगत कड़वासरा,
कुलदीप, रीतू, जसवीर, हरजीत ने कहा कि कोरोनाकाल से खेल नर्सरी बंद पड़ी हुई है। जिसको लेकर अभी तक सभी खेल कोचों ने आॅनलाइन प्रशिक्षण देने का कार्य किया। इसके बाद प्रशिक्षण देने की सीडी भी विभाग को जमा करवा दी है। मगर अभी तक खेल कोचों को मानदेय नहीं दिया गया है। इसी के साथ स्कूल लगने शुरू हो गये हैं। वहीं अन्य गतिविधियां भी शुरू हो चुकी है। ऐसे में खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने के लिए खेल नर्सरियों को खोला जाए।

यह भी पढ़े   मुख्यमंत्री ने 1.30 करोड़ से बने उपभोक्ता फोरम का किया उद्धाटन

खेल नर्सरी में खिलाड़ियों को भी अभी तक छात्रवृत्ति नहीं मिली है। खेल नर्सरी के 8 से 14 साल के खिलाड़ियों को 1500, 15 से 19 साल के खिलाड़ियों को दो हजार रुपये डाइट के लिए छात्रवृत्ति मिलती है। मगर अभी खिलाड़ियों को डाइट के लिए राशि नहीं मिली है। खिलाड़ी ललिता, मंजू, रीतू, पूजा ने बताया कि खेलों का अभ्यास नहीं कर पा रहे है। इसके लिए खेल नर्सरियों को
खोलो जाए। इसी के साथ डाइट के लिए विभाग द्वारा राशि उपलब्ध करवाई जाए।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 10,542,841Deaths: 152,093
Close
Close