Breaking Newsक्राइमदुनिया

सगे चाचा-ताऊ, मामा-फूफी और मौसी के बच्चों के बीच शादी गैरकानूनी : पंजाब व हरियाणा उच्च न्यायालय

Marriage between children of maternal uncle-tau, maternal uncle and aunt is illegal: Punjab and Haryana High Court

चंडीगढ़। पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने अपने पिता के भाई की नाबालिग बेटी से बालिग होने के बाद शादी करने की दलील को ख़ारिज करते हुए कहा कि सगे चाचा-ताऊ, मामा-फूफी और मौसी के बच्चों के बीच शादी गैरकानूनी है। अदालत ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि याचिकाकर्ता अपने पिता के भाई की बेटी से शादी करना चाहता है, जो उसकी रिश्ते की बहन है और ऐसा करना हिन्दू मैरिज एक्ट में गैरकानूनी है।

इस मामले में याची ने यह कह कर अग्रिम जमानत याचिका लगाई थी कि जिस लड़की के अपहरण का आरोप है वह मुझे शादी करना चाहती हैl इसलिए मुझे अपहरण के मामले में निर्दोष करार देते हुए जमानत मंजूर की जाये l

न्यायाधीश ने कहा, इस याचिका में दलील दी गई है कि जब भी लड़की 18 साल की हो जाएगी तो वे शादी करेंगे लेकिन तब भी यह गैरकानूनी है। मामले में 21 वर्षीय युवक ने 18 अगस्त को लुधियाना जिले के खन्ना शहर-2 थाने में भारतीय दंड संहिता की धाराओं 363 और 366ए के तहत दर्ज मामले में अग्रिम जमानत का अनुरोध करते हुए पंजाब सरकार के खिलाफ उच्च न्यायालय का रुख किया।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 9,534,964Deaths: 138,648
Close
Close