Breaking Newsबिज़नेसराजनीतीव्यापारहरियाणा

बाजरा खरीद में बजरंगदास गर्ग ने सरकार को घेरा, लगाए गंभीर आरोप

बाजरा कि खरीद में धांधली: 1200 में खरीद 2150 में बेच रहे हैं सरकार के चहेते व्यापारी: बजरंग गर्ग

सरकार के चहेतों द्वारा 1200 से 1400 रूपये में बाजरा खरीद कर 2150 रूपये में सरकारी एजेंसियों को बेचकर करोड़ों रूपये का घोटाला किया जा रहा है – बजरंग गर्ग
सरकार के चेहतों द्वारा धान, सरसों अब बाजरा में करोड़ों रूपये का घोटाला कर रहे है – बजरंग गर्ग  

चण्डीगढ़ – हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रान्तीय अध्यक्ष व हरियाणा कान्फैड के पूर्व चेयरमैन बजरंग गर्ग ने कहा कि सरकार बाजरा खरीद में किसानों को तंग करने में लगी हुई है। जबकि सरकार के चहेते किसान व पड़ोसी राज्य राजस्थान का बाजरा 1200 रूपये से लेकर 1400 रूपये में खरीद करके सरकारी एजेंसियों को एमएसपी रेट 2150 में बेचकर करोड़ों रूपये का घोटाला कर रहे है। जिसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।

इसी प्रकार सरकार के चहतें ने सरसों व धान खरीद में भी करोड़ों रूपये का घोटाला किया सरकार के चाहेतों द्वारा सरसों 3500 रूपये से लेकर 3700 रूपये में खरीद कर 4425 रूपये में हैफेड की सरकारी एजेंसी को बेचा था। प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि किसान अपना बाजरा बेचने के लिए मंडियों में धक्के खा रहे है। मगर सरकारी एजेंसियों के अधिकारियों द्वारा किसान का बाजरा ना खरीद ना करने से किसानों को बड़ी भारी दिक्कत आ रही हैं। प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि सरकार को अपने ब्यादे के अनुसार किसान का एक-एक दाना बाजरा का खरीद करना चाहिए।

बाजरा खरीद के नाम पर किसानों को तंग ना किया जाए। प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा किसान की फसल पोर्टल के माध्यम से खरीद करने से किसान को अपनी फसल बेचने व पैमंट लेने में बड़ी भारी दिक्कत आ रही हैं। पोर्टल एक ठकोसला है सराकर ने खुद माना है की 48 हजार किसानों के खाते के नम्बर मेल नहीं खा रहे ऐसे में सरकारी एजेंसी किसान को फसल का भुगतान कैसे करेगी। सरकार को पोर्टल को तुरन्त प्रभाव से हटाकर किसान की फसल पहले की तरह खरीद करनी चाहिए। ताकि किसान को अपनी फसल बेचने व पैमंट लेने में दिक्कत ना आए।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 9,534,964Deaths: 138,648
Close
Close