हरियाणा

देवी की पूजा करनी है तो कन्या भ्रूण हत्या एवं दहेज प्रथा की जाए खत्म-चरणदास

भिवानी । स्थानीय हनुमान जोहड़ी मन्दिर धाम परिसर में  अष्टमी और नवमी के दिन नव दुर्गा की पूजा अर्चना की गई।  इस अवसर पर महंत चरणदास महाराज ने श्रद्धालुओं के साथ नव दुर्गा पूजन करते हुए कहा कि  नवरात्रों पर हर घर को बेटी व नारी शक्ति के सम्मान व सुरक्षा का संकल्प लेना चाहिए।  उन्होंने कहा कि हर घर में  देवी की पूजा की जाती है तो हर घर में  बेटी की भी पूजा होनी चाहिए । वही इस अवसर पर उन्होंने कहा कि  कन्या भ्रूण हत्या जैसा अपराध है व दहेज जैसा अभिशाप  यह दोनों खत्म होनी चाहिए । जब तक समाज में  इनका प्रचलन है तो समझो कि बेटी व नारी शक्ति व देवी स्वरूप  नवदुर्गा का सम्मान अधूरा है व इस अवसर पर उन्होंने  देवी की स्तुति करते हुए कहा कि  माता रानी की कृपा दृष्टि  देश पर बनी रहे  और कोविड-19 जैसी  महामारी खत्म हो यही अरदास आज देवी के दरबार में संत महात्माओं व श्रद्धालुओं ने लगाई है। महाराज ने कहा कि शारदीय नवरात्रि कुछ लोग महाअष्टमी के दिन कन्या पूजन करते हैं तो कुछ नवमी के दिन ,हालांकि इस बार अष्टमी और नवमी तिथि को लेकर लोग दुविधा में रहे हैं। अष्टमी और नवमी की सही तिथि और कन्या पूजन का शुभ मुहूर्त पर देवी की पूजा की गई है ।जो लोग अष्टमी के दिन कन्या पूजते हैं उन्होंने 24 अक्टूबर को सुबह 6 बजकर 58 मिनट तक की गई है और नवमी करने वाले लोग 25 अक्टूबर 7 बजकर 44 मिनट तक कन्या पूजन कर सकते हैं। इस अवसर पर समाजसेवी अशोक भारद्वाज, पंडित पवन शर्मा,प्रवीण बासिया उर्फ़ लाडू ,पंकज मुटरेजा, हेमंत कौशिक, लक्ष्मी देवी ,अंजू देवी, पंकज तायल ,अनिल कुमार, ध्यान दास ,कृष्ण कुमार, प्रमोद कुमार, बबल ,मोनु सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने पूजा में भाग लिया।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 9,392,919Deaths: 136,696
Close
Close