हरियाणा

पं. दीनदयाल उपाध्याय का एकात्म मानववाद का विचार पूरे विश्व के लिए प्रेरणीय: देव प्रसाद भारद्वाज

भिवानी, 24 सितंबर।  भारतीय जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे पंडित
दीनदयाल उपाध्याय का एकात्म मानववाद का विचार भारत राष्ट्र ही नहीं अपितु
पूरे विश्व के लिए प्रेरणीय है। यह एक ऐसा चिंतन और दर्शन है जसमें विश्व
शांति, विश्व कल्याण व खुशहाली के रास्ते पर आगे बढ़ा जा सकता है। यह बात
आरएसएस के पूर्व प्रदेश कार्यवाहक व केएलपी कॉलेज के प्रो. देव प्रसाद
भारद्वाज ने स्थानीय पंचायत भवन में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 104वीं
जयंती के अवसर पर आयोजित वेबीनार में पार्टी पदाधिकारियों को संबोधित
करते हुए कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष शंकर धूपड़ ने
अतिथिगणों का स्वागत किया। कार्यक्रम की शुरूआत पंडित दीनदयाल उपाध्याय
के चित्र पर पुष्प अर्पित कर की गई। वेबिनार में पंडित दीनदयाल उपाध्याय
के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया प्रो. देव प्रसाद भारद्वाज ने बताया
कि पं. दीनदयाल उपाध्याय एक महान चिंतक, कर्मयोगी, विचारक व दार्शनिक थे।
वे भारत माता के सच्चे सुपूत थे। उनका जन्म 1916 में मथूरा जिला के एक
छोटे से गांव हुआ। उनके माता-पिता का बचपन में ही निधन हो गया था।
उन्होंने अपनी पढ़ाई अपने नाना के घर पर रहकर पूरी की। उन्होंने मैट्रिक
व इंटरमीडिएट की परीक्षा प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण की व गोल्ड मैडल
प्राप्त किया। 1937 में वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संपर्क में आ गए।
वे जीवनव्रती संघ के प्रचारक बने। वे संघ के माध्यम से ही राजनीति में
आए। 1951 में तत्कालीन प.पू. गुरु जी की प्रेरणा से पं. श्यामा प्रसाद
मुखर्जी की अध्यक्षता में भारतीय जनसंघ की स्थापना की गई। पं. दीनदयाल
उपाध्याय को राष्ट्रीय महामंत्री जैसा महत्वपूर्ण दायित्व सौंपा गया।
1967 में वे भारतीय जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित हुए। वे केवल
43 दिन तक ही राष्ट्रीय अध्यक्ष रह पाए। 11 फरवरी 1968 की रात्रि को
मुगलसराय रेलवे स्टेशन पर उनकी निर्मम हत्या कर दी गई। उनकी हत्या की
साजिश आज तक सुलझ नहीं पाई है। भारतीय जनसंघ के कुशल संगठनकर्ता के रूप
में उनकी अनूठी व अनमोल प्रतिभा शक्ति थी। भाजपा प्रदेश सचिव मुकेश गौड़
ने कहा कि आज भाजपा को विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी होने का जो
गौरव प्राप्त हुआ है। वह पंडित दीनदयाल उपाध्याय जैसे महान कर्मयोगी की
तपस्या का ही परिणाम है। उन्होंने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय ने
राष्ट्र व समाज का कार्य करते हुए अपना जीवन बलिदान कर दिया। राष्ट्र
हमेशा उनका ऋणी रहेगा। कार्यक्रम में मंच का संचालन ठा. विक्रम सिंह ने
किया। भाजपा जिला अध्यक्ष शंकर धूपड़ ने बताया कि पं. दीनदयाल उपाध्याय
की जयंती पूरे जिले में बुथ स्तर पर बड़े उत्साह व हर्षोल्लास के साथ
मनाई गई। उन्होंने कहा कि 2 अक्तूबर गांधी जयंती पर आयोजित होने वाले
कार्यक्रम के दौरान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ा का प्रवास
रहेगा। पूर्व जिला अध्यक्ष नंदराम धानिया ने पं. उपाध्याय के जीवन पर
प्रकाश डाला। इस अवसर पर पूर्व जिला अध्यक्ष ताराचंद अग्रवाल, सभी मण्डल
अध्यक्ष व पदाधिकारी एवं कार्यकत्र्ता उपस्थित रहे।

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 7,814,682Deaths: 117,956
Close
Close