Breaking Newsराजनीतीहरियाणा

??? अंतररष्ट्रीय नशा विरोधी दिवस पर खास तोहफा: पहले मंदिर में जाना जरूरी होता था वैसे ही आज शराब पीना जरूरी है

खास Special gift on International Day of Anti-Drug Addiction: Earlier it was necessary to visit the temple, similarly today it is necessary to drink alcohol

एंडी हरयाणा-9

चौधरी की चौपाल

पहले मंदिर में जाना जरूरी होता था वैसे ही आज शराब पीना जरूरी है?

यह मिनिस्टरी भी इसे आबे-हयात ही समझती है?

बैंगन बहुत बुरी चीज है??

जो आदमी शराब? पीता है उसके कीड़े मर जाते हैं
एक बार हरियाणा विधानसभा में डिमांड्स पर बरवाला के विधायक  प्रभु सिंह  बोले यह डिमांड हमारे सामने गवर्नमेंट ने अपने हालात के मुताबिक रखी है। लेकिन मैं इसके बारे में कुछ कहे बगैर रह नहीं सकता। पुराने जमाने में जैसे मंदिर में जाना जरूरी होता था वैसे ही आज शराब पीना जरूरी है और इसे आजकल आबे हयात कहा जाता है। और  यह मिनिस्टरी भी इसे आबे-हयात ही समझती है क्योंकि इसके( सरकार) बनते वक्त इसका बेतहाशा इस्तेमाल हुआ है। और अब भी होता होगा। मालूम होता है कि यहां बैठे हुए एक या दो ही मिनिस्टर ऐसे गुनाहगार बचे है जो  इसे इस्तेमाल न करते हो बाकी सारे मिनिस्टर बड़े पाक साफ बैंठे हैं और बराबर आबेहयात का लुत्फ लेते रहते हैं।

 

बैंगन बहुत बुरी चीज है??
इसी तरह विधान सभा में कांग्रेस के विधायक दयाकृष्ण ने सदन में हरियाणा में शराब बंदी लागु करने बारे एक रेजुलेशन पेश किया  सभी विधायक उस पर विचार रख रहे थे|  जुडंला के विधायक चौधरी बनवारी राम ने कहा  डिप्टी स्पीकर साहिबा रैजेरेल्यूशन जो पेश किया गया है वह बहुत अच्छा है लेकिन मुझे इस बात की कोई  उम्मीद नहीं कि यह कांग्रेस वाले इसे पास करेंगे आगे वे कहते हा के हरियाणा में कभी शराब बंद नही हो सकती । अगर ठेके बंद करेंगे तो सरकार को पता नहीं सरकार को कितनी पकड़  धकड़ करनी पड़ेगी और कितने केस चलेंगे । इससे बड़ा नुकसान होगा । पहले तो इन कांग्रेस वालों को अपने घर से बंद करनी होगी लेकिन ऐसा यह करेंगे नहीं । इनकी तो  मियां जी वाली बात है।

एक मियां जी अपने लिए तो घर में बैंगन लाए लेकिन बाहर जलसे में तकरीर करने लगे कि बैंगन बहुत बुरी चीज है इसे नहीं खाना चाहिए । घर पर आ कर उसने पूछा कि क्या पकाया है तो उसकी औरत ने कहा कि कुछ नहीं क्योंकि आपने ही जलसे में कहा था कि बैगन नहीं खाने चाहिए और मैने वह उठा कर फैक दिए । उसने कहा कि बेअकल यह बात तो दुनियां के लिए है हमारे ऊपर यह लागू नहीं होती।
इसी तरह स्पीकर साहिब प्रोहिबीशन वाली बात दूसरों पर ही लागू होती है मिनिस्टरों पर लागू नहीं होती । जब यहां पर मिनिस्टर खुद शराब पीते हैं तो ये कैसे शराब बन्दी कर सकते हैं इसलिए हरियाणा की सरकार प्रोहिबीशन के लिए कोई रैजेल्यूशन पास नहीं कर सकती ।

 

किसी में हुस्न का नशा, किसी में दौलत का नशा?
शराब बंदी पर ही बोलते हुए नौल्था के विधायक चौधरी जय सिंह राठी ने कहा डिप्टी स्पीकर साहिबा यहां काफी देर से नशा- बन्दी के सिलसिले में बात चल रही है । इस हाउस में जो भी उठता है वह एक ही बात कहता है कि शराब बन्द होनी चाहिए । डिप्टी स्पीकर साहिबा मैं यह अर्ज करना चाहता हूं कि इस दुनियां में केवल एक शराब ही नशा नहीं है और भी बहुत से नशे हैं । किसी आदमी में ताकत का नशा, किसी में हुस्न का नशा, किसी में दौलत का नशा और इन नशों के अलावा अफीम का, भांग का और चरस का भी है। इस तरह से कितने ही नशे है । अब मेरी यह समझ में नहीं आता कि ये शराब के नशे को छोड़ कर और सब नशो को अपने पास रखना चाहते हैं । किसी भी ने यह नहीं कहा कि हम सब नशों को छोड़़ने के लिए तैयार हैं ।

 

??
जो आदमी शराब पीता है उसके कीड़े मर जाते हैं
शराब बंदी पर ही सदन में बोलते हुए नारायणगढ के विधायक चौधरी लाल सिंह ने कहा , काफी समय से इस शराबबंदी के प्रस्ताव पर बहस चल रही है और इसके बारे में मैं यह कहना चाहता हूं कि शराबबंदी जितनी जल्दी आप कर सकते हैं उतनी जल्दी कर देनी चाहिए । मैं समझता हूं इससे आपकी जो यह फैमिली प्लानिंग है इस में काफी फर्क पड़ेगा, क्योंकि सारी की सारी गलतियां शराब से ही होती हैं। शराब ऐसी नामुराद चीज है कि अपने पराए का नहीं देखती है। यह डाक्टरी बात है कि इन्सान के अन्दर और हर चीज के अन्दर कीड़े होते हैं और इन कीड़ो के बगैर कोई नहीं रह सकता । आदमी के अदंर भी कीड़ों की पोटली सै और जो आदमी शराब पीता है उसके कीड़े मर जाते हैं और वह आदमी किसी काम का नहीं रहता । जैसे कि बैल को अगर कीड़े पड़ जाए, तो आप भाई जानते हैं कि उस पर अगर स्प्रिट डाल दी जाए, तो कीड़े मर जाते हैं इसी तरह शराब पीने वाले आदमी के भी कीड़े मर जाते हैं और उससे सोचने की शक्ति कमजोर पड़ जाती है और आप जानते हैं कि सोचने के वगैर आदमी आदमी नहीं रहता जानवर बन जाता

✒रणदीप घनगस

मेरी किताब एंडी हरयाणा से

आज का लेख नशा विरोधी दिवस को समर्पित
नशाबन्दी के समर्थन में

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 9,392,919Deaths: 136,696
Close
Close