Breaking NewsCorona Virusदुनियाराजनीती

4 हज़ार प्रवासी श्रमिकों को बिहार के मुज्जफरपुर, बरौनी और किशनगंज के लिए रवाना किया

4 thousand migrant workers left for Muzaffarpur, Barauni and Kishanganj in Bihar

Spread the love

चंडीगढ़ l हरियाणा से आज तीन विशेष श्रमिक रेलगाडियों से 4,000 से अधिक प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्य बिहार के मुज्जफरपुर, बरौनी और किशनगंज के लिए रवाना किया गया।
एक सरकारी प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आज अंबाला रेलवे स्टेशन से विशेष रेलगाड़ी 1212 प्रवासी श्रमिकों को लेकर बिहार के मुज्जफरपुर, फरीदाबाद से 1400 श्रमिकों को लेकर बिहार के बरौनी और हिसार से 1450 प्रवासी मजदूरों को लेकर बिहार के किशनगज के लिए रवाना हुई। इसके अतिरिक्त, आज 400 बसों के माध्यम से भी प्रवासी मजूदरों को उत्तर प्रदेश स्थित उनके गंतव्य स्थानों के लिए रवाना किया गया।
संबंधित जिला प्रशासन की ओर से इन सभी प्रवासी श्रमिकों को नि:शुल्क टिकट के साथ पानी की बोतल, मास्क व सैनेटाइजर भी उपलब्ध करवाए गए ताकि रास्ते में उन्हें बुनियादी चीजों को लेकर किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। इसके अतिरिक्त, रेलवे स्टेशन पर इन सबकी स्वास्थ्य जांच भी गई। इन प्रवासी श्रमिकों को रेल के डिब्बों में सोशल डिस्टैंसिग के साथ बिठाने का कार्य भी किया गया।

हिसार से 1450 प्रवासी श्रमिक बिहार के किशनगंज के लिए रवाना
हिसार रेलवे स्टेशन से आज दोपहर दो बजे विशेष श्रमिक ट्रेन 1450 प्रवासी श्रमिकों को लेकर बिहार के किशनगंज के लिए रवाना हुई। इस ट्रेन में हिसार मंडल के चार जिलों, जींद, फतेहाबाद, सिरसा व हिसार के प्रवासी श्रमिकों को सरकारी खर्च पर उनके गृह राज्य भिजवाया गया है। इन श्रमिकों को बसों के माध्यम से रेलवे स्टेशन लाया गया। इनमें बिहार के किशनगंज, अररिया, भागलपुर, पूर्णिया, मधेपुरा, कटियार, खगडिय़ा, सुपोल व सारसा जिलों के प्रवासी श्रमिक शामिल थे। ट्रेन में महिला यात्री व बच्चे भी थे जिन्हें जिला रेडक्रॉस की ओर से सॉफ्ट टॉय, बिस्कुट व चॉकलेट दी गईं।

अम्बाला से 1212 प्रवासी श्रमिक मुज्जफरपुर (बिहार) के लिए रवाना
अम्बाला छावनी रेलवे स्टेशन से विशेष श्रमिक ट्रेन 1212 प्रवासी श्रमिकों के साथ  मुज्जफरपुर (बिहार) के लिए रवाना की गई। सभी प्रवासी श्रमिकों को हरियाणा रोडवेज की बसों के माध्यम से छावनी रेलवे स्टेशन लाया गया और उनकी स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा थर्मल स्कैनर के माध्यम से जांच की गई।
प्रवासी श्रमिकों ने तालियां बजाकर व हरियाणा सरकार जिंदाबाद के उदघोष के साथ घर जाते हुए अपनी खुशी भी जाहिर की। इन प्रवासी श्रमिकों में अम्बाला शहर से 323, यमुनानगर से 645, नारायणगढ़ से 72, पंचकूला से 147 व अम्बाला छावनी से 25 प्रवासी श्रमिक शामिल हैं। इसके अलावा 9 बच्चे भी शामिल हैं।

फरीदाबाद से बरौनी, बिहार के लिए 1400 प्रवासी श्रमिक रवाना
फरीदाबाद से बरौनी, बिहार के लिए 1400 प्रवासी श्रमिकों को ट्रेन के माध्यम से रवाना किया गया।  अपने गृह राज्य जाने के इच्छुक श्रमिकों द्वारा पोर्टल पर पंजीकरण करवाने पर उनका डाटा विवरण जिला प्रशासन को प्राप्त होता है, जिसके बाद सभी लोगों को मोबाइल फोन आदि से सूचना भेजी जाती है।
प्रवासी श्रमिक राज्य सरकार द्वारा उनकी सुविधा के लिए की गई व्यवस्था से काफी संतुष्ट हैं तथा उनका कहना है कि लॉकडाउन में ऐसी व्यवस्था के कारण ही उनका घर जाना संभव हो पा रहा है।

Close