Breaking Newsक्राइम

कलानौर यूकों बैंक मित्र शाखा में लूट का मामला: डकैती, चोरी व लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले गैंग का भण्डाफोड़

गांव चांग (भिवानी) स्थित बैंक में हुई डकैती सहित 8 अन्य वारदातों का खुलासा

Spread the love

रोहतक से अनूप कुमार सैनी की रिपोर्ट

गैंग के दो सदस्य अवैध हथियार सहित गिरफ्तार
वारदात में लूटे गए 55,000 रुपये, वारदात में प्रयुक्त दो देशी पिस्तौल, जिन्दा कारतूस व मोटरसाईकिल भी बरामद
रोहतक पुलिस  की सीआईए-1 टीम द्वारा कलानौर यूकों बैंक की मित्र शाखा में हुई लूट की वारदात को सफलतापूर्वक हल करते हुए वारदात में शामिल रहे तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।
पुलिस रिमांड के दौरान आरोपियों से वारदात में लूटे गए 55,000 रुपये, वारदात में प्रयुक्त दो देशी पिस्तौल, जिन्दा कारतूस व मोटरसाईकिल बरामद हुई है। पूछताछ पर आरोपियों से डकैती, लूट व चोरी आदि की कई
वारदातों को अंजाम देने वाले गैंग का खुलासा हुआ है। आरोपियों ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांव चांग (भिवानी) स्थित बैंक में डैकती सहित 8 अन्य वारदातों को अंजाम दे रखा है। गैंग के दो सदस्यों को सीआईए-1 टीम द्वारा अवैध हथियार सहित गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। आरोपियों से गहनता से पूछताछ में जुटी है।
सीआईए-1 स्टाफ में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए उप पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) गोरख पाल ने बताया कि गत 19 मार्च को कलानौर में 3 युवकों द्वारा हथियारों के बल पर यूकों बैंक की मित्र शाखा में लूट की वारदात को अंजाम दिया था। जिस संदर्भ में पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपियों का पीछा कर एक युवक सोमबारी उर्फ ढीलू निवासी गांव मौखरा को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने थाना कलानौर में अभियोग संख्या 107/2020 अंकित कर जांच शुरू कर दी।
उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा के दिशा-निर्देशों के अनुसार मामले की जांच निरीक्षक प्रवीन कुमार के नेतृत्व में एएसआई अमरजीत राठी सहित अन्य सीआईए-1 स्टाफ द्वारा गहनता से अमल में लाई गई। दौराने जांच स.उप.नि. सुशील कुमार के नेतृत्व में छापेमारी करते हुए गत 20 मार्च को वारदात में शामिल रहे आशीष निवासी गांव सीसर खास व जितेन्द्र उर्फ जीतू निवासी गांव मौखरा को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों को अदालत से पुलिस रिमांड पर हासिल कर गहनता से पूछताछ की गई।
जांच में सामने आया कि मुख्य आरोपी आशीष ने अपने साथियों के साथ मिलकर गैंग बना रखा है। गैंग में शामिल सभी आरोपी 10/12वीं कक्षा पास है तथा सभी की उम्र 25 से 30 वर्ष के बीच है तथा नशे के आदी है। आरोपियों ने नशे के लिए तथा ऐशोआराम की जिन्दगी जीने के लिए आपराधिक वारदातों को अंजाम दिया है।
गैंग द्वारा डकैती, लूट व चोरी आदि की करीब 8 वारदातों को 2 महीने के अन्दर-अन्दर अंजाम दिया था। गैंग द्वारा वारदातों से पहले रैकी की जाती थी। अलग-अलग जगहों से वारदात में प्रयुक्त हथियार एकत्रित किए गए हैं। योजना तैयार करके वारदातों को अंजाम दिया जाता था।
सीआईए-1 प्रभारी निरीक्षक प्रवीन कुमार के दिशा-निर्देशों अनुसार कार्यवाही करते हुए सीआईए-1 की अलग-2 टीमों द्वारा गत 22 मार्च को गैंग के दो सदस्यों को अवैध हथियार सहित काबू किया है। मुख्य सिपाही विकास के नेतृत्व में सीआईए-1 टीम ने छापेमारी करते हुए महम चौबीसी चबूतरे के पास से वकील पुत्र जगमेन्द्र निवासी गांव मौखरा को एक देशी रिवाल्वर व दो जिन्दा रौंद सहित काबू किया है।
उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ थाना महम में अभियोग संख्या 120/2020 अंकित कर गिरफ्तार किया गया है। मुख्य प्रदीप के नेतृत्व में सीआईए-1 टीम ने किशनगढ़ महम से सोहन उर्फ सोनू पुत्र जयसिंह निवासी सीसर खास को एक देशी पिस्टल व एक जिन्दा रौंद सहित काबू किया गया है। आरोपी के खिलाफ थाना महम में अभियोग संख्या 121/2020 अंकित कर गिरफ्तार किया गया है। गैंग में शामिल अन्य सदस्यों की पहचान हो चुकी है, जिन्हें गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं।
पूछताछ के दौरान आरोपियों ने जिन निम्न वारदातों का खुलासा किया है, उनमें प्रमुख रूप से करीब दो माह पहले आशीष, सचिन उर्फ भोलू, अंकित, सोहन उर्फ सोनू निवासी गांव सिसर खास, वकील निवासी मोखरा व संदीप उर्फ डीसी निवासी निन्दाना ने मिलकर महम फरमाणा चुंगी से बीमा एजेंट के ऑफिस से हथियारों के बल पर 12 हजार रुपये छीने थे। जिस संदर्भ में अभियोग संख्या 30/2020 थाना महम में अंकित है।
इसके अलावा करीब डेढ़ माह पहले आशीष, सचिन उर्फ भोलू, अंकित, सोहन उर्फ सोनू, वकील, टीनू उर्फ सोनू निवासी मातन (झज्जर) व संदीप उर्फ डीसी ने मिलकर मित्तल खल फैक्टरी महम से हथियारों के बल पर 70,000 रुपये की लूट की वारदात को अंजाम दिया था। जिस संदर्भ में अभियोग संख्या 32/2020 थाना महम में अंकित है।
सीआईए-1 प्रभारी के अनुसार करीब डेढ़ माह पहले आशीष, सचिन उर्फ भोलू, टीनू उर्फ सोनू, सुमित व भोलू आदि ने मिलकर दो अलग-अलग मोटरसाईकिलों पर सवार होकर गांव चांग जिला भिवानी स्थित पंजाब नेशनल बैंक में हथियारों के बल पर डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपियों ने बैंक से करीब 15 लाख रुपये लूटे थे। जिस संदर्भ में अभियोग संख्या 119/2020 थाना सदर भिवानी अंकित है।
इसी प्रकार करीब 2 माह पहले आशीष, सचिन उर्फ भोलू ने मिलकर भिवानी से एक मोटरसाईकिल चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। करीब डेढ़ माह पहले आशीष व सचिन ने कंसाला नहर के पास एक स्कूटी चालक के साथ हथियारों के बल पर लूट का प्रयास किया था।
निरीक्षक नवीन कुमार ने बताया कि करीब डेढ़ माह पहले आशीष व सचिन आदि ने गांव चांग (भिवानी) के खेतों में बने कमरे में बैठे आदमियों के साथ हथियारों के बल पर लूट की थी। करीब डेढ़ माह पहले ही आशीष व सचिन ने गांव चांग (भिवानी) में शराब ठेका पर हथियारों के बल पर करीब 6000 रुपये की लूट की वारदात की थी। करीब दो माह पहले आशीष ने रसायन फैक्टरी मौखरा के सामने हवाई फॉयरिंग करने की वारदात में शामिल रहा था।

यह भी पढ़े   द क्विंट का खुलासा : 370 से ज्यादा सीटों के वोट काउंट में अंतर: EC के पास कोई जवाब नहीं

बाईट – गोरख पाल, उप पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय), रोहतक

Close