Breaking Newsदुनियाशिक्षा

एचटेट परीक्षा परिणाम घोषित होने से पूर्व परीक्षार्थी का बॉयोमैट्रीक सत्यापन हुआ अनिवार्य

Spread the love

भिवानी। हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा नवम्बर-2019 का परिणाम घोषित होने से पूर्व परीक्षार्थियों की बॉयोमैट्रीक सत्यापन होना अनिवार्य है। परीक्षार्थियों की सुविधा को देखते हुए 30 दिसम्बर, 2019 से 02 जनवरी, 2020 तक राज्य के सभी 22 जिलों में यह प्रक्रिया पूर्ण करवाने हेतु केन्द्र स्थापित किए गए थे तथा बोर्ड मुख्यालय में यह प्रक्रिया 5 जनवरी, 2020 तक जारी रखी गई थी। बोर्ड अध्यक्ष डाक्टर जगबीर सिहं ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कुछ परीक्षार्थियों ने अपनी बॉयोमैट्रीक सत्यापन प्रक्रिया पूर्ण नहीं की हैं, ऐसे परीक्षार्थी 6 से 8 जनवरी तक अध्यापक भवन, बोर्ड मुख्यालय, भिवानी में उपस्थित होकर अपनी बॉयोमैट्रीक सत्यापन प्रक्रिया पूर्ण कर सकते हैं। उन्होंने आगे बताया कि जो परीक्षार्थी इन तिथियों में यह प्रक्रिया पूर्ण नहीं करते है, उनका परिणाम घोषित नहीं किया जाएगा।

Close