हरियाणा

गीता के उपदेशों से जीवन बन सकता है आदर्श : रणजीत सिंह

Spread the love

राजेंद्र कुमार

सिरसा,08 दिसंबर। हरियाणा के बिजली, जेल एवं ऊर्जा मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने कहा कि हम अपने जीवन में श्रीमद भगवत गीता के उपदेशों को अपनाकर उसे आदर्श बना सकते है। यह तभी संभव होगा जब गीता का उपदेश हर घर तक पहुंचेगा। प्रदेश सरकार द्वारा जिला स्तर पर गीता जयंती महोत्सव मनाने का कदम सराहनीय है। इससे लोगों को भूली हुई संस्कृति की जानकारी मिलेगी जो उन्हें नई राह दिखाएगी। रणजीत सिंह  रविवार को फतेहाबाद के मनोहर मैमोरियल कालेज में आयोजित जिला स्तरीय अंतर्राष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव के प्रात:कालीन सत्र समारोह को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। समारोह में विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर खूब वाहवाही लूटी। बिजली मंत्री ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले स्कूली बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया।
बिजली, जेल एवं ऊर्जा मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने कहा कि यदि किसी को गीता का महत्व समझना है कि एक बार कुरुक्षेत्र की भूमि का दर्शन करें तभी जाकर पता चलेगा कि हरियाणा की इस रणभूमि का महत्व क्या है। जहां श्रीकृष्ण ने लोगों गीता का उपदेश देकर धर्म औरकर्म की राह बताई। आज विश्व के 15 दिनों में गीता जयंती महोत्सव बनाए जा रहे है जोकि हर भारतीय के लिए गर्व की बात है। यह सब हरियाणा सरकार के प्रयासों की बदौलत ही संभव हुआ है। सरकारके इस कदम से आज की युवा पीढ़ी को अपनी संस्कृति के बारे में जानकारी मिलेगी और वे संस्कारवान बनेंगे। अतिरिक्त उपायुक्त महावीर प्रसाद,जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी आत्माराम व विनय बैनीवाल ने मुख्यातिथि को गीता भेंट की।
इससे पूर्व कार्यक्रम में प्रो. आरके शर्मा ने गीता महत्व बारे विचार व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसा राज नहीं होना चाहिए जिसकी नींव अपनों की लाशों पर हो। लेकिन धर्म और कर्म दो अलग-अलग रास्ते है जिसमें भावना का सम्मान जरूरी है। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने हर कदम समाज को शिक्षा देकर नई राह दिखाने का काम किया है। इसी तरह श्रीमद भगवत गीता भी हमें शक्ति देती है। विद्वान पंडित राकेश शर्मा ने कहा कि गीता भगवान की वाणी है। इसके पाठ करने से लोक और परलोक दोनों सुधरते है। इसलिए गीता पाठ के लिए दूसरों को भी प्रेरित करना चाहिए। इससे जीवन आनंदमय बन जाता है। कार्यक्रम का शुभारंभ वैदिक प्रवक्ता सुदामा शास्त्री ने हवन यज्ञ करके किया। कार्यक्रम में वृंदावन से आए कलाकारों ने महाभारत पर नाटक प्रस्तुत किए। समारोह में 5 साल की पल्लवी शर्मा ने जय श्यामा तू है नंदलाला भजन प्रस्तुत कर खूब तालियां बटोरी। जवाहर नवोदय विद्यालय खाराखेड़ी के विद्यार्थियों ने श्रीकृष्ण लीला पर नाटिका, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय भूना, अपैक्स कॉन्वेंट स्कूल, शेखुपुर दड़ौलीके सरकारी स्कूल आदि ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। प्रतिभागी विद्यार्थियों को मुख्यातिथि ने स्मृति चिह्न भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर डीईओ दयानंद सिहाग, एलडीएम अनिल मीणा, जिला परिषद के चेयरमैन राजेश कस्वां एडवोकेट संत कुमार टूटेजा, भाजपा नेता मनीष मैहता, नरेश सरदाना, रम्मी गिल्होत्रा, रामराज मैहता, यश तनेजा, शिव कुमार, अवतार मोंगा, महेश शर्मा मौजूद रहे।

Close