हरियाणा

सरकार ने मिलों से पुलिसकर्मियों को नहीं हटाया तो प्रदेश का व्यापारी व मिलर सड़कों पर आ जाएगा – बजरंग गर्ग

सरकार ने राइस मिलांे में पुलिसकर्मियों को तैनात करके व्यापारियों का अपमान किया है - बजरंग गर्ग

चण्डीगढ़ – हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व अखिल भारतीय व्यापार मंडल के राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा सरकार ने हरियाणा की राइस मिलांे में पुलिसकर्मियों को तैनात करके मिलरों के साथ ज्यादती करते हुए व्यापारियों का अपमान किया है। जिसे किसी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। मिलों में पुलिसकर्मी तैनात करने पर प्रदेश के व्यापारियों में बड़ा भारी रोष है, अगर सरकार ने मिलों से पुलिसकर्मियों को नहीं हटाया तो प्रदेश का व्यापारी व मिलर सड़कों पर आ जाएगा। प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा किसान की जीरी की खरीद ना करने और अपनी विफलता को छुपाने के लिए किसान व आम जनता का ध्यान हटाने के लिए यह ड्रामा किया गया है। प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा का चावल पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। विश्व में आई साल लगभग 25 हजार करोड रुपए का चावल निर्यात होता है। जिससे विदेशी पैसा भारत में आता है। यहां तक कि पिछली साल सरकार की जीरी के बदले 99.99 प्रतिशत चावल मिलरों ने सरकार को जमा करा दिया है। उसके बावजूद भी बार-बार सरकार द्वारा व्यापारियों को नाजायज तंग करना सरासर गलत है। प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि प्रदेश का व्यापारी व उद्योगपति लाखों लोगों को रोजगार दे रहा है और केंद्र व प्रदेश की सरकार को हर प्रकार का टैक्स देखकर देश के विकास में अपनी अहम भूमिका निभा रहा है। देश की अर्थव्यवस्था जो पूरी तरह से चरमरा गई है उसको तंदुरुस्त करने में भी अपनी अहम भूमिका निभा रहा है। केंद्र व प्रदेश सरकार को व्यापारी व उद्योगपतियों को नाजायज तंग करने की बजाय उन्हें हर प्रकार की सुविधा देनी चाहिए। ताकि देश व प्रदेश में व्यापार को बढ़ावा मिल सके और लाखों बेरोजगारों को रोजगार मिल सके।

x

COVID-19

India
Confirmed: 742,417Deaths: 20,642
Close