हरियाणा

स्थानीय वैश्य मॉडल सी0 सै0 स्कूल, भिवानी के सभागार में विज्ञान एवं प्रोद्यौगिकी मंत्रालय

Spread the love

भिवानी, 15 अक्तूबर। स्थानीय वैश्य मॉडल सी0 सै0 स्कूल, भिवानी के सभागार में विज्ञान एवं प्रोद्यौगिकी मंत्रालय, भारत सरकार एवं हरियाणा स्कूल शिक्षा निदेशालय के तत्त्वावधान में जिला शिक्षा अधिकारी के मार्गदर्शन में जिला स्तरीय विज्ञान प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन हुआ जिसमें हरियाणा शिक्षा बोर्ड से मान्यता प्राप्त 34 एवं सी.बी.एस.ई. से मान्यता प्राप्त 11 विद्यालयों ने भाग लिया। कार्यक्रम का शुभारम्भ जिला शिक्षा अधिकारी श्री अजीत सिंह श्योराण एवं वैश्य मॉडल सी. सै. स्कूल, भिवानी के निदेशक श्री ओ.पी. जोशी एवं प्राचार्या श्रीमती कमला गुरेजा द्वारा दीप प्रज्ज्वलन द्वारा किया गया। निदेशक एवं प्राचार्या द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी का फूलों से स्वागत किया गया। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी श्री अजीत सिंह ने विद्यार्थियेां का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि इस प्रकार की प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं से विद्यार्थियों के न सिर्फ ज्ञान में संवर्धन होता है बल्कि उन्हें और आगे बढऩे की प्रेरणा मिलती है। उन्होंने यह भी कहा कि यह अत्यंत गर्व का विषय है कि विद्यालयों का इस ओर रूझान बढ़ा है और अधिकाधिक विद्यार्थी इनमें भाग ले रहे हैं। प्रतियोगिता के प्रथम चरण में सभी प्रतिभागी दलों की लिखित परीक्षा के प्राप्तांकों के आधार पर शीर्ष 8 दलों का चयन किया गया जिनके मध्य प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया। प्रश्नोत्तरी के अंतिम चरण में सी.बी.एस.ई. विद्यालयों में के. एम. पब्लिक स्कूल भिवानी; भिवानी पब्लिक स्कूल; जी लिट्रा वैली स्कूल भिवानी;      एस.ई.डी.सी.सै. स्कूल ढाणी शंकर एवं वैश्य मॉडल सी. सै. स्कूल, भिवानी के दलों को एवं हरियाणा बोर्ड के विद्यालयों में सरस्वती सी. सै. स्कूल मिलकपुर; राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय लोहानी; पं0 सीताराम शास्त्री वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय भिवानी; पी. एच. इंटरनेशनल स्कूल भिवानी एवं राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय देवराला; के दलों को जोनल स्तरीय प्रतियोगिता हेतु चयनित किया गया जो आगामी माह में आयोजित की जाएगी। इतनी बड़ी संख्या में विद्यालयों का प्रश्नोत्तरी परीक्षा में भाग लेना इस बात का प्रमाण है कि इस तरह की विज्ञान प्रतियोगिताओं में शिक्षकवृन्द व विद्यार्थियों का रुझान बढ़ा है। प्रतियोगिता में क्विज मास्टर की भूमिका विज्ञान प्राध्यापक श्री राकेश ने बखूबी निभाई। जिला गणित विशेषज्ञ श्री राजेन्द्र श्योराण जी के नेतृत्व में पूरा कार्यक्रम सुचारू रूप से संपन्न हुआ।

Close