Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
हरियाणा

इंद्री व नीलोखेड़ी विधानसभा के सामान्य पर्यवेक्षक ने चुनाव मीडिया सैंटर का अवलोकन कर जानी व्यवस्था,

Spread the love
करनाल 09 अक्तूबर,( मैनपाल कश्यप / शिव बत्रा )
इंद्री व नीलोखेड़ी विधानसभा चुनाव के सामान्य पर्यवेक्षक राधे श्याम मिश्रा ने लघु सचिवालय में चुनाव के लिए बनाए गए मीडिया सैंटर का अवलोकन किया तथा एमसीएमसी कमेटी के सदस्यों से बातचीत करके व्यवस्था जानी और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बुधवार को जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी कार्यालय में चुनाव के लिए बनाए गए मीडिया सैंटर का अवलोकन करने के लिए जिले के इंद्री व नीलोखेड़ी विधानसभा क्षेत्र के सामान्य पर्यवेक्षक सीनियर आईएएस राधे श्याम मिश्रा ने एमसीएमसी की गतिविधियों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि चुनाव में एमसीएमसी कमेटी की अहम जिम्मेवारी है, वे सजग रहकर निस्वार्थ भाव से अपनी डयूटी करें। उन्होंने एमसीएमसी कमेटी के बारे में विस्तार से जानकारी ली और कहा कि चुनाव के दौरान पेड न्यूज, प्रिंट व सोशल मीडिया के प्रचार पर विशेष निगाह रखी जाए। उम्मीदवार प्रचार के लिए जो भी अनुमति ले उसका भी ध्यान रखे कि फील्ड में वही प्रचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आदर्श आचार संहिता का जिला में सही से पालन हो, जिसका व्यापक प्रचार किया जाए और 21 अक्तूबर को होने वाले मतदान के लिए अधिक से अधिक भागीदार के लिए स्वीप गतिविधियों का प्रचार-प्रसार हो ताकि अधिक से अधिक मतदाता अपनी भागीदारी कर सकें।  उन्होंने सोशल मीडिया की जानकारी लेने के बाद निर्देश दिए कि जितने भी उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं उनका फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यू-टयूब पर प्रतिदिन निगरानी रखें और अपने फोन के माध्यम से व्हाट्स पर भी यदि कोई लिंक आता है तो संबंधित उम्मीदवार के खाते में खर्च जोड़ा जाए। एमसीएमसी कमेटी के सदस्य सचिव सुनील बसताड़ा ने एमसीएमसी द्वारा की जा रही गतिविधियों के बारे में पर्यवेक्षक को विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एमसीएमसी कमेटी पेड न्यूज, प्रिंट मीडिया, सोशल मीडिया इलैक्टॉनिक्स मीडिया द्वारा किए जा रहे प्रचार-प्रसार पर नजर रखे हुए हैं। यदि कोई पेड न्यूज आती है तो उस पर एमसीएमसी कमेटी द्वारा संज्ञान लिया जाता है और नोटिस बनाकर उम्मीदवार को भेजा जाता है। उम्मीदवार को नोटिस का जवाब 48 घंटे से पहले देना होता है। जवाब आने पर एमसीएमसी कमेटी के अध्यक्ष एवं जिला निर्वाचन अधिकारी की अनुमति से उम्मीदवार द्वारा किया गया खर्च उनके खाते में जोड़ा जाता है।

Close