Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsराजनीतीहरियाणा

डा. अशोक तंवर के सर्मथन में पदाधिकारियों व सैकड़ों कार्यकत्र्ताओं ने छोड़ी कांगे्रस: उमरा

Spread the love

भिवानी, 8 अक्तूबर। मंगलवार को एक निजी रेस्तरा में कांग्रेस
पदाधिकारियों द्वारा एक सामूहिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में
पदाधिकारियों ने कांग्रेस हाईकमान द्वारा डा. अशोक तंवर के खिलाफ साजिस
रचकर उन्हें और उनके लाखों समर्थकों को आघात पुहंचाने का काम किया। उससे
नाराज होकर सभी पदाधिकारियों सैकड़ों समर्थकों ने अपना त्यागपत्र देकर
कांग्रेस को अलविदा कह दिया। सभी ने हाईकमान पर आरोप लगाया की 5 वर्षों
के हमारे कठिन संघर्ष को जो हाईकमान ने अनदेखा किया है उसे उन सबकी आत्मा
को आघात पहुंचा है। सभी पदाधिकारियों ने अपना इस्तिफा कांग्रेस अध्यक्ष
को भेज दिया गया है। आरोप लगाते हुए सैंकड़ों समर्थकों ने एक सूर में
कांग्रेस को वोट न देने की हुंकार भरी और कहा कि जो पार्टी हम लोगों को
वर्षों तक युज करती रही और अब समय आया तो टिकट उन लोगों को थमा दी जो
वर्षों तक ऐ.सी कमरों से बाहर नहीं निकले न जनता की आवाज उठाई और न
विपक्ष की भूमिका निभाई। ऐसे कांग्रेस पदाधिकारियों व सैकड़ों समर्थकों
द्वारा रोजाना कांग्रेस को छोडऩा जारी रहा तो कांग्रेस दस का आंकड़ा भी
नहीं छुसकती। सभी ने डा. अशोक तंवर के समर्थन में एक जूट होकर शपथ ली।
इस्तिफा देने वालों में प्रदेश सचिव दलबीर उमरा, प्रदेश सचिव रामफल
कमाण्डो, संगठन सचिव शेरसिंह दहिया, आईटीसैल जिला चेयरमैन अनिल जांगड़ा,
कॉर्डिनेसन कमेटी प्रधान अरूण कमाण्डो, कोर्डिनेसन कमेटी महासचिव अंकित
बलियाली, कोर्डिनेसन कमेटी महासचिव सुखदेव जमालपुर व सैकड़ों
कार्यकत्र्ता शामिल थे।

Close