Breaking Newsशिक्षाहरियाणा

अंक सुधार परीक्षा का रिजल्ट जारी, यहाँ देखे ऑनलाइन रिजल्ट

Spread the love

भिवानी, 13 सितम्बर, 2019 : हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर एक विषय में अंक सुधार हेतु दिए गये एक विशेष अवसर के तहत संचालित सैकेण्डरी एवं सीनियर सैकेण्डरी (शैक्षिक / मुक्त विद्यालय) परीक्षा अगस्त-2019 का परिणाम आज 13 सितम्बर, 2019 को घोषित किया गया है।
इस परीक्षा परिणाम की घोषणा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने आज बोर्ड मुख्यालय पर आयोजित एक प्रेस-कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए दी। उन्होंने बताया कि परीक्षार्थी अपने परीक्षा परिणाम आज 13 सितम्बर, 2019 को सांय 04:00 बजे बोर्ड की वेबसाईट www.bseh.org.in व मोबाईल एप के माध्यम से देख सकते हैं।
बोर्ड अध्यक्ष ने आगे बताया कि सैकेण्डरी (शैक्षिक) अंक सुधार परीक्षा का परिणाम 67.03 प्रतिशत रहा। इस परीक्षा में 640 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 429 परीक्षार्थी अंक सुधार करने में सफल हुए। इस परीक्षा में 471 लडक़े प्रविष्ठ हुए जिसमें से 302 अंक सुधार करने में सफल रहे जिनकी अंक सुधार प्रतिशतता 64.12 रही, जबकि 169 प्रविष्ठ लड़कियों में से 127 अंक सुधार करने में सफल रही जिनकी अंक सुधार प्रतिशतता 75.15 रही।
उन्होंने आगे बताया कि सीनियर सैकेण्डरी (शैक्षिक) अंक सुधार परीक्षा का परिणाम 51.57 प्रतिशत रहा। इस परीक्षा में 1369 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 706 परीक्षार्थी अंक सुधार करने में सफल रहे। इस परीक्षा में 1166 लडक़े प्रविष्ठ हुए जिसमें से 561 अंक सुधार करने में सफल रहे जिनकी अंक सुधार प्रतिशतता 48.11 रही, जबकि 203 प्रविष्ठ लड़कियों में से 145 अंक सुधार करने में सफल रही जिनकी अंक सुधार प्रतिशतता 71.43 रही।
उन्होंने आगे बताया कि सैकेण्डरी (मुक्त विद्यालय) अंक सुधार परीक्षा का परिणाम 45.00 प्रतिशत रहा। इस परीक्षा में केवल पुरूष परीक्षार्थी ही प्रविष्ठ हुए थे, जिनकी संख्या 20 थी, जिनमें से 09 अंक सुधार करने में सफल रहे।
उन्होंने आगे बताया कि सीनियर सैकेण्डरी (मुक्त विद्यालय) अंक सुधार परीक्षा का परिणाम 58.82 प्रतिशत रहा। इस परीक्षा में 85 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 50 परीक्षार्थी अंक सुधार करने में सफल रहे । इस परीक्षा में 60 लडक़े प्रविष्ठ हुए जिसमें से 34 अंक सुधार करने में सफल रहे जिनकी अंक सुधार प्रतिशतता 56.67 रही, जबकि 25 प्रविष्ठ लड़कियों में से 16 अंक सुधार करने में सफल रही जिनकी अंक सुधार प्रतिशतता 64.00 रही।
उन्होंने बताया कि इन परीक्षा परिणामों के आधार पर जो परीक्षार्थी अपनी उत्तरपुस्तिकाओं की पुन: जाँच अथवा पुनर्मूल्यांकन करवाना चाहते हैं तो वे ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं। पुन: जाँच/पुनर्मूल्यांकन निर्धारित शुल्क सहित परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन तक ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं। इसके बाद पुन: जाँच/पुनर्मूल्यांकन का कोई भी आवेदन स्वीकार नहीं होगा। इसके अलावा यदि परीक्षार्थी अपनी उत्तरपुस्तिका की छायाप्रति लेना चाहता है तो वह परिणाम घोषित होने की तिथि से 60 दिन के अन्दर-अन्दर निर्धारित शुल्क व दस्तावेजों के साथ आवेदन कर सकता है।
उन्होंने आगे बताया कि यदि परीक्षार्थी उत्तरपुस्तिका की छायाप्रति लेने के बाद भी पुन: जाँच/पुनर्मूल्यांकन करवाना चाहता है तो वह केवल परीक्षा परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन के अन्दर ही आवेदन कर सकता हैं। इसके बाद आवेदन स्वीकार नहीं होगा।

Close