Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsराजनीतीहरियाणा

रोडवेज़ हड़ताल के दौरान कर्मचारियों के तमाम मामले निरस्त, किलोमीटर स्कीम पर दोनों पक्ष आमने सामने

Spread the love
सरबत सिंह पूनिया , महासचिव सदस्य हरियाणा रोड़वेज कर्मचारी तालमेल कमेटी

हरियाणा रोड़वेज कर्मचारी तालमेल कमेटी
हड़ताल अवधि को लीव आफ काइंड डयू किया गया।
कर्मचारियों की कुछ मांगों पर बनी सहमति।
किलोमीटर स्कीम रद्द करने के लिए सरकार तैयार नहीं।
तालमेल कमेटी भी किलोमीटर स्कीम को रद्द करवाने पर अड़िग।
तालमेल कमेटी शीघ्र बैठक आयोजित कर आगामी रणनीति का करेंगी ऐलान

चण्डीगढ,13 सितम्बर। परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के साथ हुई बातचीत में हड़ताल के दौरान की गई सभी कर्मचारियों की उत्पीड़न एवं दमन की कार्यवाहियों समाप्त की जाएगी। परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी सी गुप्ता के साथ शुक्रवार को हरियाणा रोड़वेज कर्मचारी तालमेल कमेटी के शिष्टमंडल की चण्डीगढ़ सचिवालय में बातचीत हुई। बातचीत में तालमेल कमेटी की ओर से कमेटी के नेता इन्द्र सिंह बधाना, दलबीर किरमारा,वीरेंद्र सिंह धनखड़,अनूप सहरावत,सरबत सिंह पूनिया,पहल सिंह तंवर,आजाद सिंह गिल व विजय अहलावत और विभाग की ओर से एसीएस के अलावा वीरेंद्र दहिया महानिदेशक राज्य परिवहन उपस्थित थे।

बातचीत के बाद कर्मचारी नेताओं ने प्रैस ब्यान में बताया कि अतिरिक्त मुख्य सचिव के समक्ष जो मांगे प्रमुखता से रखी उनमें किलोमीटर स्कीम रद्द करने,हड़ताल व अन्य आन्दोलन के दौरान रोड़वेज व हड़ताल में समर्थन में आंदोलन में शामिल अन्य विभागों के कर्मचारियों के खिलाफ एस्मा के तहत हुई चार्जशीट,निलम्बन,बर्खास्तगी, मुकदमे व अन्य उत्पीड़न की कार्यवाही समाप्त करने,परिचालक का ग्रेड पे बढाने,तबादला नीति पर रोक लगाने,कर्मशाला कर्मचारियों के राजपत्रित अवकाश कटौती बहाल करने,1992 से 2003 के मध्य लगे कर्मचारियों को नियुक्ति तिथि से पक्का करने,जोखिम भत्ता देने,बोनस का भुगतान करने,कर्मशाला के कर्मचारियों को तकनीकी वेतनमान देने,कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने,खाली पदों पर पक्की भर्ती करने, सभी कर्मचारियों की वेतन विसंगतियां दूर करने,खाली पड़े प्रमोशनल पदों पर प्रमोशन करने,विभाग में सरकारी बसें बढाने,नई पैंशन स्कीम बहाल करने, आदि 34 सुत्री मांगपत्र पर बातचीत की।

यह भी पढ़े   आदर्श स्कूल के दिव्यांग बच्चों ने जीते गोल्ड मेडल

कमेटी के नेताओं ने बताया कि अतिरिक्त मुख्य सचिव ने हड़ताल व अन्य सभी प्रकार के आंदोलनों के दौरान हुई कर्मचारियों के खिलाफ की गई सभी प्रकार की चार्जशीटे, निलंबन ,बर्खास्तगी, मुकदमें व सभी प्रकार की उत्पीड़न एवं दमन की कार्यवाहियों को समाप्त करने व सभी हड़तालों का देय अवकाश मानकर वेतन देने का पत्र आज जारी करने का निर्णय लिया। उन्होंने बताया कि 57 हैड मकैनिकों को एस एस आई व 21 चालकों को यार्ड मास्टर के पद पर आज ही प्रमोशन करने,जल्द ही लगभग 400 उप निरीक्षकों को निरीक्षक के पद पर प्रमोशन करने,तबादला नीति पर रोक लगाने, एवं किलोमीटर स्कीम के तहत 510 प्राइवेट बसों को नहीं चलाने,विभाग 867 सरकारी बसें शामिल करने का आश्वासन दिया है।

इन मांगों पर सहमति नही बनी
कमेटी के नेताओं ने बताया कि सरकार भ्रष्टाचार का पर्दाफाश होने के बावजूद किलोमीटर स्कीम रद्द करने के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं। परिचालकों का ग्रेड पे बढाने व 1992 से 2003 के मध्य लगे कर्मचारियों को नियुक्ति तिथि से पक्का करने व तकनीकी कर्मचारियों को तकनीकी वेतनमान देने से स्पष्ट इन्कार कर दिया।

परिवहन मंत्री द्वारा कल दिए आश्वासन पुरा करने से भी इंकार
कमेटी के नेताओं ने बताया कि परिवहन मंत्री द्वारा कल हुई बातचीत में कर्मशाला कर्मचारियों के राजपत्रित अवकाश की कटौती बहाल करने का निर्णय भी अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा लागू करने से मना कर दिया।
तालमेल कमेटी की बैठक आयोजित कर आगामी रणनीति का किया जाएगा ऐलान।
कर्मचारी नेताओं ने कहा जल्द ही तालमेल कमेटी की बैठक करके बातचीत की समीक्षा करके आगामी रणनीति तय की जाएगी।

Close