Breaking Newsराजनीतीहरियाणा

पुराने होम गार्ड के जवान बुलाने की बजाय भर्ती किए नए जवान, अब की जाएगी जांच

Spread the love

 

फतेहाबाद : गत लोकसभा चुनाव में होमगार्ड के जवानों की ड्यूटी लगनी थी। इसके लिए प्रदेश सरकार ने गृह रक्षी विभाग के प्लाटून कमांडेंट फतेहाबाद को पत्र भेजा। जिसमें निर्देश दिए कि जो 108 होमगार्ड के जवान पिछले चार सालों से ड्यूटी पर नहीं आ रहे हैं। उनको घर से बुलाकर चुनावों में ड्यूटी पर लगाया जाए।

इसके बाद फतेहाबाद के प्लाटून कमांडेंट ने पुराने होमगार्ड के जवानों को वापस बुलाने की बजाए उनकी जगह पर नए युवाओं की भर्ती गुपचुप तरीके से कर दी। जबकि विभाग के कागजों में उन्हें पुराने होमगार्ड के जवाना बताया।

इसका खुलासा अब रिश्वत मामले में पकड़े गए गृह रक्षी विभाग के प्लाटून कमांडेंट रमेश की गिरफ्तारी के बाद हुआ है। यह आरोप लगाते हुए कुछ जवानों ने बकायादा विजिलेंस को सत्यापित पत्र भी दिए है। जिनकी अब जांच करनी है।

दरअसल, लोकसभा 2019 के चुनावों के लिए भारी संख्या में फोर्स की जरूरत पड़ी। सबसे सस्ती फोर्स के रूप में कार्य होमगार्ड के जवान ही करते है।

Close