Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsदुनियाराजनीतीहरियाणा

हाथी और हाथ आ सकते हैं एक साथ: बसपा और कांग्रेस में गठबंधन की अटकलें

Spread the love

राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद BSP हरियाणा में भी कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने जा रही है ? इस सवाल को राजनैतिक हलकों में तब तबज्जो मिली जब हरियाणा प्रदेश कांग्रेस की नव नियुक्त प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सेलजा और कोंग्रस के वरिष्ठ नेता पूर्व मुख्य्मंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती से मुलाकात की खबरें सामने आई !

विदित हो कि राजस्थान और मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार को बीएसपी ने अपना समर्थन दिया हुआ है। इस मुलाकात के बाद चर्चा है कि हरियाणा में दोनों दल साथ मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं। इस मुलाकात के बाद ही प्रदेश के विधानसभा चुनावों में बीएसपी और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं।

कांग्रेस से गठजोड़ के लिए तोडा जेजेपी से गठबंधन ?
बता दें कि बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती पिछले कुछ समय से एक के बाद एक दल के साथ गठबंधन करने और उन्हें तोड़ने के लिए अच्छी खासी चर्चा में हैं l जींद विधान सभा उप चुनाव में उनका गठबंधन इनेलो से था जो चुनाव के तुरंत बाद टूट गया l लोकसभा चुनाव में बसपा और राजकुमार सैनी की लोसपा ने मिलकर कर चुनाव लड़ा जो चुनाव के बाद फिर टूट गया l कुछ दिन पहले ही इनेलो से अलग हुए धड़े जेजेपी से गठबंधन की बात सामने आई लेकिन यह गठबंधन भी कुछ सप्ताह के बाद ही टूट गया l हालाँकि सुश्री मायावती 90 की 90 सीटों पर चुनाव अकेले लड़ने की घोषणा कर चुकी हैं लेकिन राजनीती में सब कुछ संभव है l अगर यह गठबंधन हुआ तो वास्तव में बीजेपी के लिए एक बड़ी चुनौती साबित होगा l 
” हाथी और हाथ ” कितना निभेगा साथ

हरियाणा में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी हलचल अब तेज हो गई हैं। मुख़्यमंत्री मनोहर लाल प्रदेश के सभी 90 हलकों में जन आशीर्वाद यात्रा निकाल चुके हैं l पन्ना प्रमुखों के नाम पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रोहतक में एक राजनैतिक रैली कर चुके है इस से पूर्व amit शाह भी हरियाणा में अपना कार्यक्रम कर चुके हैं l भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह जहां प्रदेश के नेताओं के साथ विधानसभा चुनाव की रणनीति बनाने में जुट गए हैं, तो वहीं कांग्रेस ने भी राज्य की सत्ता में वापसी के लिए कोशिशें शुरू कर दी हैं। इस बीच सूत्रों के हवाले से सबसे बड़ी खबर ये आ रही है कि हरियाणा के विधानसभा चुनाव में भाजपा से मुकाबले के लिए कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी साथ मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं। हरियाणा में विधानसभा की 90 सीटें और इस साल के अंत में प्रदेश के विधानसभा चुनाव होने हैं। फिलहाल हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है।

Close