Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
हरियाणा

रामायण और महा भारत भी हैं हमारे शिक्षा के आधार –शर्मा 

Spread the love
 भिवानी (        ) शिक्षा-शिक्षक व अभिभावक के बीच आपसी संवाद बढ़ाने के उद्देश्य से भिवानी की कृष्णा कॉलोनी में शिक्षा संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में शिक्षक-अभिभावक व बच्चों के अलावा शहर के प्रबुद्ध लोगों ने हिस्सा लिया तथा शिक्षा को लेकर गहन विषयों पर संवाद स्थापित किया गया। इस कार्यक्रम में शिक्षकों, छात्रों व अभिभावकों ने अपनी-अपनी समस्याएं व उपलब्धियां गिनवाई।
    कार्यक्रम के संयोजक हरियाणा औद्योगिक इकाई के चीफ कोर्डिनेटर सुनील शर्मा ने बताया कि सामाजिक परिवेश को बेहतर बनाने के उद्देश्य से लोगों के बीच शिक्षा संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया, ताकि शिक्षा के विभिन्न पहलुओं पर शिक्षा से जुड़े लोग आपस में बातचीत कर महत्वपूर्ण निर्णय तक पहुंचे। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व भी खेल संवाद, युवा संवाद, नए मतदाता जागरूकता संवाद जैसे कार्यक्रम भिवानी में सामाजिक संस्थाओं द्वारा करवाए गए। इन कार्यक्रमों का उद्देश्य विभिन्न क्षेत्रों में संवाद स्थापित करना रहा। उन्होंने बताया कि आज के कार्यक्रम में जहां समस्याओं पर चर्चा की गई, वही उपलब्धियोंं पर भी चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि आज के संवाद में अध्यापकों की तबादला नीति को लेकर काफी सकारात्मक संवाद अध्यापकों की तरफ से आएं। उन्होंने कहा कि अध्यापकों की तबादला नीति आज अन्य राज्यों में अपनाई जा रही है। कहा कि चिकित्सा और शिक्षा दोनो विषय ऐसे हैं जिसका देश के विकास और उसकी उन्नति के लिए बहुत जरूरी है। कहा कि प्राचीन शिक्षा शैली में गुरुकुल शिक्षण संस्थान  ऐसे थे कि अंग्रेज भी देश को तोड़ नही पाए।रामायण और महा  भारत भी हमारे शिक्षा के आधार हैं ,कहा कि जिस व्यक्ति से प्रेरणा मिले वही से शिक्षक की भूमिका शुरू हो जाता है।
    वही आज के कार्यक्रम में मंथन के बाद यह बात मुख्य रूप से निकलकर आई कि देश की शिक्षा व चिकित्सा के कार्यो को सरकार पूर्ण रूप से अपने मातहत करें। प्रबुद्धजनों ने शिक्षा संवाद कार्यक्रम के तहत राय दी कि लोगों को शिक्षा व चिकित्सा उच्च स्तरीय व नि:शुल्क करने का कार्य यदि सरकार करती है तो देश के विकास को कोई नहीं रोक सकता। इस अवसर पर डॉ बुद्धदेव शर्मा, जेपी शर्मा, सुभाष परमार, मनोज यादव, महेश ठेकेदार, पवन,अशोक कुमार ,सुरेन्द्र तंवर,वीरेंद्र शर्मा, अनिल सांगवान, भूपेन्द्र सिंह,विनोद शर्मा, मास्टर सतवीर, सोभित सांगवान, मास्टर रामनिवास यादव,बबलू यादव,भूपेंद्र चाहड़,भानुप्रकाश शर्मा, धीरज गौदारा,विकास यशकीर्ति, विकास शर्मा सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति शिक्षा संवाद कार्यक्रम शामिल रहे।

Close