Breaking Newsदुनियाबिज़नेसव्यापार

आरबीआई ने बैंकों से कहा- बैलेंस इन्क्वायरी और फेल ट्रांजेक्शन फ्री लिमिट में नहीं गिने जाएं

Spread the love

बैंक हर महीने एक तय लिमिट के बाद एटीएम ट्रांजेक्शन पर शुल्क लेते हैं
आरबीआई को इस संबंध में ग्राहकों से शिकायतें मिल रही थीं
प्यारा हिन्दुस्तान ब्यूरो
मुंबई। आरबीआई ने बैंकों से कहा है कि तकनीकी वजहों और कैश नहीं होने जैसी वजहों से फेल होने वाले एटीएम ट्रांजेक्शंस को फ्री ट्रांजेक्शंस की लिमिट में शामिल नहीं करें। नॉन कैश विड्रॉल ट्रांजेक्शंस को भी इस श्रेणी में नहीं माना जाए।
ये ट्रांजेक्शन फ्री कैटेगरीकी लिमिट से अलग
-खाते में रकम की जानकारी
-चेक बुक के लिए आवेदन
-टैक्स का भुगतान
-फंड ट्रांसफर
बैंक हर महीने एक तय लिमिट के बाद एटीएम ट्रांजेक्शंसपर ग्राहकों से शुल्क लेते हैं। आरबीआई को शिकायतें मिल रही थीं कि एटीएम में नकदी उपलब्ध नहीं होने और सॉफ्टवेयर या हार्डवेयर की गड़बड़ी जैसी वजहों से फेल ट्रांजेक्शंस को भी बैंक फ्री ट्रांजेक्शंस की श्रेणी में गिनते हैं।

Close