Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
हरियाणा

श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि पर गौड़ ब्राह्मण सभा नारनौल द्वारा श्रावणी महोत्सव व पूजा का आयोजन किया गया

Spread the love

नारनौल, 15 अगस्त ()। बृहस्पतिवार को श्रावण माह की पूर्णिमा तिथि पर गौड़ ब्राह्मण सभा नारनौल द्वारा क्षेत्र की ऐतिहासिक एवं धार्मिक रूप से विख्यात महर्षि चमन ऋर्षि की तपस्वी प्रसिद्धि ढ़ोसी पहाड़ी के शिव कुंड पर श्रावणी महोत्सव व पूजा का आयोजन किया गया। उक्त आशय की जानकारी  को गौड ब्राह्मण सभा नारनौल के प्रधान राकेश महता ने देते हुए बताया कि इस महोत्सव व पूजा में विप्र समाज के लगभग 300 लोगों ने भाग लिया। आचार्य देवदत्त शास्त्री पूर्व प्रधान गौड ब्राह्मण सभा ने मंत्र उच्चारण व विधी विधान से ब्राह्मण कुमारों को यज्ञोपवित धारण करवाये। उन्होंने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी यह पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया। उन्होंने कहा कि श्रावण मास की पूर्णिमा एक बहुत ही शुभ एवं पवित्र दिन माना गया है हिंदू धर्म शास्त्रों एवं ग्रंथों के अनुसार इस दिन किए गए तप और दान का विशेष महत्व होता है। इसी दिन रक्षाबंधन का प्रसिद्ध त्योहार भी है। उन्होंने कहा कि शुक्ल पूर्णिमा को श्रावणी उपक्रम भी किया जाता है। उन्होंने बताया कि  ब्राह्मण समाज में यगोपवित धारण एक महत्वपूर्ण संस्कार है। यह जीवन के सोलह संस्कारों में से एक संस्कार है। गौड़ ब्राह्मण सभा नारनौल द्वारा संचालित शारदा संस्कृत विद्यालय नारनौल के 37 विद्यार्थियों के अलाव 5 दर्जन से अधिक लोगों ने यज्ञोपवित धारण किया। इस दौरान  विप्र समाज के भारी संख्या में लेागों ने ढ़ोसी पहाड़ी के शिव कुंड में स्नान किया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री कैलाश चन्द शर्मा,गौड ब्राह्मण सभा के पूर्व प्रधान अर्जुन लाल ऐडवोकेट,किशन लाल,मदन लाल ऐडवोकेट निहालावास वाले, किशन शर्मा, मुरारी लाल, बनवारी लाल एडवोकेट, निरंजन लाल मेहता, बजरंग लाल शास्त्री, मनीष शास्त्री, क्रांति निर्मल, मदन लाल शास्त्री, मनोज शास्त्री सहित भारी संख्या में विप्र समाज के लोग उपस्थित थे।
फोटो कैप्शन:आचार्य देवदत्त शास्त्री मंत्र उच्चारण व विधी विधान से ब्राह्मण कुमारों को यज्ञोपवित धारण करवाते हुए साथ में गौड ब्राह्मण सभा के प्रधान राकेश महता।
श्रावणी महोत्सव पर प्रसिद्धि ढ़ोसी पहाड़ी के शिव कुंड में स्नान करते विप्र समाज के लोग

Close