Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
हरियाणा

खारिया कुआं और मंदिर की जमीन धोखाधड़ी से बेचने का आरोप

Spread the love
भिवानी, 13 अगस्त। शहर के अंदर 250 साल पुराने मंदिर की जमीन को बेचने का
मामला प्रकाश में आया है। इसकी शिकायत मंदिर के पुजारी ने उपायुक्त,
पुलिस अधीक्षक से की। शिकायत पर किसी ने गंभीरता नहीं ली तो अब पुजारी ने
न्यायालय की शरण ली है। पुजारी पंडित रामप्रताप ने बताया कि नगर परिषद और
राजस्व विभाग के कर्मचारियों से मिलीभगत कर कोडिय़ों के भाव जीम बेची गई।
स्टांप डयूटी का भी बड़ा घोटाला किया गया है। उन्होंने बताया कि
प्रशासनिक अधिकारी ने पहले हुई जांच में इसे मंदिर की जगह माना था और
पहले बिक्री की गई जगह को भी गलत ठहरा दिया था। जबकि एसपी ने भी मामले की
जांच इकोनामिक सेल को सौंपी थी। रिपोर्ट आती उससे पहले ही मंदिर की 2650
वर्ग गज की रजिस्ट्री धोखाधड़ी से किसी के नाम करा दी गई। पुजारी
रामप्रताप ने बताया कि नया बाजार स्थित खारिया कुआं करीब ढाई सौ साल
पुराना है और यहां पर चिमनलाल बुधराम मंदिर से पुराना मंदिर भी है। इस
मंदिर की करीबन पाई है। जबकि यूनिट एक्स 433 में चिमनलाल मंदिर के नाम ही
है। इसमें कुछ अन्य लोगों के नाम भी इंद्राज किए हैं। मगर एक महिला ने
नगर परिषद अधिकारियों से मिलीभगत कर मंदिर की जगह में गलत तरीके से अपना
नाम इंद्राज करा दिया और असेसमेंट में भी बढ़ा दिया। इसके बाद महिला ने
इस जमीन को ब्लड रिलेशन का हवाला देते हुए अपनी बेटी के नाम करा दिया।
बेटी ने इस जगह में 2650 वर्ग गज की जगह को जुलाई 2019 में 37 लाख छह
हजार रूपये में बेच डाला। जिसकी राजस्व विभाग ने मैने मामले की कई जगह
शिकायतें कर रखी है, मगर बुजुर्ग होने के कारण वह भूमाफियाओं से लडऩे के
लिए ज्यादा भागदौड़ नहीं कर पा रहा है। मगर वह हर हाल में न्याय लेकर
रहेगा। इसी कारण कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।
एडवोकेट नरेन्द्र मोहन शर्मा का कहना है कि तेजपाल द्वारा दायर किए गए
दावे पर सुनवाई के दौरान न्यायालय ने मंदिर की प्रॉपर्टी पर यथा स्थिति
बनाए रखने के आदेश दिए हैं। इसके बावजूद मिलीभगत से जमीन की बिक्री की
गई। इसमें न्यायालय की अवमानना भी की गई है। इसी मामले में न्यायालय ने
मंदिर की जमीन खरीददार को भी 16 अगस्त को न्यायालय में तलब किया हुआ है।

Close