Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsक्राइमदुनिया

जानिए एनिमल सिंपैथी ऑर्गेनाइजेशन क्यों करवाना चाहता कुत्तों व बंदरों की नसबंदी !

Spread the love

कुत्तों व बंदरों से निजात के लिए एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया से मुलाकात की
भिवानी, 9 अगस्त। शहर में आवारा कुत्तों व बंदरों के आतंक से आमजन की
सुरक्षा के लिए एनिमल सिंपैथी ऑर्गेनाइजेशन के सदस्यों ने यह समस्या
एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया के समक्ष रखी। उन्होंने कहा कि हमारे जिले
के सरकारी अस्पताल में  रेबीज की वैक्सीन भी नहीं है। जो आम आदमी आवारा
कुत्तों, पालतू कुत्तों और बंदरों का शिकार हो रहे हैं उन्हें रेबीज जैसी
खतरनाक बीमारी  का खतरा बना हुआ है जो जिससे वे बहुत ही परेशान हैं।
एनिमल सिंपैथी ऑर्गेनाइजेशन के सदस्यों व पदाधिकारियों ने एनिमल वेलफेयर
बोर्ड ऑफ इंडिया के समक्ष जिले के सभी आवारा कुत्तों, बंदरों व पालतू
कुत्ते को रेबीज के इंजेक्शन तथा उनकी नसबंदी की जाने की मांग रखी। इस
मौके पर वरिष्ठ उपप्रधान प्रदीप गोयल, महासचिव शिव कुमार, योगेश,  व
सदस्य नरेश आदि उपस्थित रहे।

Close