Breaking Newsस्थानीय खबरेंहरियाणा

हरियाणा स्टेट पैंशनर्ज समाज ने मंत्रियों से मिलकर रखी अपनी मांगे

पूरे प्रदेश में चलेगा संपर्क अभियान-देवराज नांदल
मांगे नहीं मानी तो मजबूरन होंगे आंदोलन करने को बाध्य

हर्षित सैनी
रोहतक, 18 जुलाई। हरियाणा स्टेट पैंशनर्ज समाज ने अपनी लम्बित मांगों के लिए विधायकों तथा सांसदों से मिलकर मांग पत्र सौंपने के लिए संपर्क अभियान आन्दोलन शुरू कर दिया है। यह आन्दोलन एक माह तक चलेगा और 15 अगस्त तक आंदोलन का प्रथम चरण रहेगा। जिसमें सभी जिला कार्यकारिणियों द्वारा जिला स्तर पर सभी विधायकों एवं सांसदों को पैंशनरों की मांगों से सम्बन्धित मांग पत्र सौंपे जाएंगे और उन्हें मनवाने के लिए आग्रह किया जाएगा।
यह जानकारी देते हुए समाज के कार्यकारी अध्यक्ष देवराज नांदल ने बताया कि राज्य कार्यकारिणी ने उनके नेतृत्व में चंडीगढ़ में संपर्क अभियान चलाया है। शिष्टमंडल में उनके साथ भलेराम बूरा, रामचन्द्र शर्मा, जोरा सिंह, करतार सिंह नांदल, जयभगवान शर्मा, संतलाल बुद्धिराजा, जयपाल नांदल और चन्द्रभान शर्मा आदि ने सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर, पानीपत विधायक महीपाल ढांडा, वित्त मंत्री अभिमन्यु तथा मुख्यमंत्री के ओएसडी भूपेश्वर पाल शर्मा को मांग पत्र सौंपे।
उन्होंने बताया कि ज्ञापन में पैंशनरों की मांगों पर जल्द निर्णय लेने का आग्रह किया गया। सभी मंत्रियों ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया कि मुख्यमंत्री कभी भी पैंशनरों को खुशखबरी दे सकते हैं।
उन्होंने बताया कि पैंशनरों के नौ सूत्री मांग पत्र में 65, 70 व 75 आयु पर 5, 10 व 15 प्रतिशत की वृद्धि करना, नैशनल पे फिक्सेशन का लाभ शीघ्र देना, अभी तक वंचित निगम, बोर्ड व विश्वविद्यालयों के पैंशनरों के लिए भी आदेश जारी करना, कैशलेस मैडिकल भत्ता 2500 रूपये करना तथा सभी बीमारियों का कैशलैस ईलाज करवाना आदि प्रमुख हैं। अगर सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो उन्हें मजबूरन आंदोलन करना होगा और इस आंदोलन की पूरी जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी।

x

COVID-19

India
Confirmed: 2,027,074Deaths: 41,585
Close