Breaking Newsपंजाबस्थानीय खबरेंहरियाणाहिमाचल प्रदेश

हरियाणा की गौरव की बात है कि हरियाणा मे से केवल एक शिव भक्त नवदीप लूथरा

साक्षात कैलाश मानसरोवर महादेव के दर्शन हुए और रास्ते में ओम महादेव पर्वत के भी दर्शन किए।

Spread the love

फ ोटो न 4-5 कैलाश मानसरोवर महादेव के दर्शन करते हुये शिव भक्त नवदीप लूथरा
तरावड़ी 12 जुलाई (राजकुमार खुराना)
जिसकी आस्था और लगन हो तो इंसान क्या नहीं कर सकता। इंसान को अपनी मंजिल पर पहुंचने के लिए दृढ इच्छा और आत्मविश्वास होना जरूरी है। तभी वह अपने मुकाम को हासिल कर सकता है। ऐसे ही तरावड़ी के एक भोले के भक्त हैं शिव भक्त नवदीप लूथरा। यह तरावड़ी की ही नहीं पूरे हरियाणा की गौरव की बात है कि हरियाणा मे से केवल एक शिव भक्त नवदीप लूथरा भारत सरकार द्वारा यात्रा पंजीकरण में केवल इनका ही नाम चुना गया था। यह तीर्थ यात्रा 20 जून से शुरू हुई हुई थी और 15 जुलाई को यह यात्रा वापसी दिल्ली आकर समाप्त होगी। वापसी आते हुए नवदीप लूथरा ने फोन पर जानकारी देते हुए बताया कि भारत सरकार साल में एक बार कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए पूरे भारत से पंजीकरण के लिए आवेदन पत्र मांगती है और कई हजारों आवेदन पत्रों से केवल हरियाणा से उनका ही एक नाम चुना गया। शिवभक्त नवदीप लूथरा ने बताया भारत सरकार के द्वारा 60 यात्रियों का एक जत्था जाता है। इस यात्रा जत्थे को डीएसपी व सुरक्षाबलों का कड़ी सुरक्षा द्वारा हमें चाइना बॉर्डर तक छोड़ कर आया। उसके बाद चाइना सरकार ने हमें कैलाश मानसरोवर की यात्रा करवाई। चाइना बॉर्डर से 200 किलोमीटर कैलाश मानसरोवर की दुर्गम पैदल यात्रा है। हमने यह यात्रा 15 दिन में तय की और हमें साक्षात कैलाश मानसरोवर महादेव के दर्शन हुए और रास्ते में ओम महादेव पर्वत के भी दर्शन किए। मेरा जीवन धन्य हो गया। इस यात्रा का भारत सरकार के द्वारा पूरी सुरक्षा मुहैया करवाई जाती है। मैं भारत सरकार का धन्यवाद करता हूं जिसकी वजह से मुझे आज कैलाशपति भोलेनाथ महादेव के दर्शन हुए।

Close