Breaking Newsगुजरातदुनिया

चक्रवाती तूफान ‘वायु’ आज 115 से 130 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से गुजरात से टकराएगा,भारी नुकसान की आशंका

नई दिल्‍ली । अरब सागर में पैदा हुआ चक्रवाती तूफान ‘वायु’ (Cyclone Vayu) गुजरात के अब और करीब पहुंच गया है। मौसम विभाग ने बताया है कि यह आज यानी 13 जून की सुबह तक गुजरात से टकराएगा। अनुमान है कि गुजरात के इलाकों से टकराते वक्‍त इसकी गति 115 से 130 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है। तीव्रता को देखते हुए गुजरात सरकार ने राज्‍य के तटवर्ती इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया है। इससे गुजरात के तटीय इलाकों में पोरबंदर से महुवा, वेरावल, कच्‍छ और दीव क्षेत्र के प्रभावित होने की आशंका है।

 

मिली जानकारी के अनुसार गुजरात के पश्चिमी तटवर्ती इलाकों से करीब 4 लाख लोगों को हटाकर सुरक्षित स्‍थानों पर ले जाया गया है। तूफान से बचने के लिए लगभग 700 राहत शिविर बनाए गए हैं। गुजरात में गिर, सोमनाथ के 40 गांव खाली कराए जा चुके हैं। गिर में 13 शेरों को ट्रैक करके उन्हें सुरक्षित स्‍थान पर ले जाया गया है। वेरावल, आद्री और दारी विस्तार इलाके में इन शेरों को ट्रैक किया गया था। बताया जा रहा है कि इन शेरों का लोकेशन समुद्र तट के पास मिली थी जिसके बाद इन्‍हें शिफ्ट करने की मुहिम शुरू की गई।

गुजरात सरकार ने राज्‍य में तीन दिवसीय शाला पर्वोत्‍सव (Shala Praveshotsav) को स्‍थगित कर दिया है। तमाम स्कूल कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थानों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं l सौराष्ट्र और कच्छ इलाकों में एनडीआरएफ, वायुसेना और बीएसएफ की टीमें तैनात की गई हैं। साथ ही राहत और बचाव कार्य के लिए सेना की 10 टुकड़ियां भी तैनात की गई हैं। मछुआरों को अगले 15 जून तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

यह भी पढ़े   कार सवार बदमाशों की पुलिस पार्टी पर फायरिंग

जानकारी के अनुसार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नियंत्रण कक्षों को 24 घंटे सक्रिय रहने के निर्देश दिए हैं। उन्‍होंने चक्रवात से निपटने की तैयारियों की समीक्षा की और महाराष्‍ट्र, गुजरात, गोवा के अधिकारियों को लोगों की सुरक्षा के लिए हरसंभव कदम सुनिश्चित करने का निर्देश दिए।

यहाँ पर भारी नुकसान की आशंका
तूफान से कच्छ, देवभूमि, द्वारका, पोरबंदर, राजकोट, जूनागढ़, दीव, गिर, सोमनाथ, अमरेली और भावनगर जिलों में भारी नुकसान की आशंका है। मौसम विभाग के मुता‍बिक, विद्युत और संचार सेवाओं पर तूफान का सबसे बुरा असर पड़ेगा। फसलों को भारी क्षति हो सकती है।

राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वे लोगों की मदद के लिए मुस्‍तैद रहें। उन्‍होंने राज्‍य के लोगों की कुशलता की कामना की है। तूफान से गोवा और कोंकण क्षेत्र में अगले दो दिनों तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। गोवा में तूफान के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

 

 

 

Back to top button
x

COVID-19

World
Confirmed: 0Deaths: 0
Close
Close