Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsक्राइम

झज्जर में विशाल मेगामार्ट संचालक की गोली मारकर हत्या

Spread the love

झज्जर। झज्जर के भगतसिंह चौक स्थित विशाल मेगामार्ट के संचालक को शुक्रवार सायंकाल बाईक पर सवार होकर आए तीन युवकों द्वारा गोली मारकर हत्या कर दिए जाने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है।
घटना की सूचना के बाद डीएसपी रमेश कुमार, झज्जर थाना प्रबंधक, एफएसएल टीम व अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस की टीमें भी हत्यारों की तलाश के लिए सक्रिय कर दी गई। सायंकाल झज्जर के गांव कासनी निवासी विशाल मेगामार्ट के संचालक अशोक कुमार पुत्र कैप्टन रण सिंह अपने मेगामार्ट के काउंटर पर बैठा था। इसी दौरान विशाल मेगामार्ट में युवक आए और काऊंटर पर बैठे अशोक पर एक के बाद एक दो गोलियां चलाई। जिसमें अशोक मौके पर ही ढ़ेर हो गया। गोली चलने की आवाज सुनकर विशाल मेगामार्ट व आसपास के क्षेत्र में हडकंप मच गया।

मेगामार्ट में काम कर रहे कर्मचारी व सामान खरीददारी करने आए उपभोक्ता भी अफरा-तफरी में इधर-उधर छुपने को दौड़े। इसी दौरान हत्यारे बाईक पर सवार होकर फरार हो गए। तुरंत अशोक कुमार को झज्जर के नागरिक अस्पताल उपचार के लिए ले जाया गया। जहां चिकित्सकों द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया गया।


देर सायं समाचार लिखे जाने तक पुलिस मामले की जांच में जुटी थी और कर्मचारियों से जहां पूछताछ की जा रही है, वहीं आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज जुटाने के प्रयास पुलिस द्वारा किए जा रहे हैं। एफएसएल टीम द्वारा भी साक्ष्य जुटाए गए हैं। जानकारी अनुसार विशाल मेगा मार्ट में यूं तो कई सीसीटीवी कैमरे लगे हैं लेकिन कर्मचारियों ने बताया कि स्टोर में लगे कैमरे फिलहाल बंद थे, जिन्हें बदले जाने की तैयारी चल रही थी।
मिली जानकारी के अनुसार हत्यारे युवकों ने बाईक को विशाल मेगामार्ट से कुछ दूरी पर खड़ा किया और हत्या को अंजाम दिए जाने के बाद बाईक से ही भाग खड़े हुए। हत्या की घटना को फिरौती या फिर आपसी रंजिश से जोडक़र भी देखा जा रहा है और पुलिस भी अलग-अलग पहलू से घटना की जांच में जुटी है। परिजनों व परिचितों से भी पुलिस जानकारी जुटा रही है।

ज्ञात रहे कि अशोक कुमार पिछले कुछ सालों से झज्जर के भगतसिंह चौक पर विशाल मेगामार्ट ग्रोसरी शोरूम चलाता था। मूल रूप से कासनी निवासी अशोक कुमार के पिता कैप्टन रणसिंह सेवानिवृत पूर्व सैनिक है। अशोक का बेटा एलएलबी है जबकि बिटिया ने अभी नीट की परीक्षा दी है। अशोक के दो बड़े भाईयों में एक दिल्ली पुलिस में थानेदार है तो सबसे बड़ा भाई राजबीर एचएसआईआईडीसी में है जबकि सबसे छोटा भाई महेश रोड़वेज में चालक है। अशोक दिल्ली पुलिस में थानेदार राजेन्द्र से छोटा था।

Close