Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsस्थानीय खबरें

हविशिबो का सीनियर सैकेंडरी परिणाम घोषित,74.48 प्रतिशत रहा परीक्षा परिणाम 

Spread the love
  • हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड का सीनियर सैकेंडरी का परीक्षा परिणाम घोषित
  • 74.48 प्रतिशत रहा परीक्षा परिणाम
  • लडक़ों के मुकाबले लड़कियों की पास प्रतिशत्ता रही 14.47 अधिक
  • मोबाईल ऐप पर भी परीक्षा परिणाम देख सकते है परीक्षार्थी : चेयरमैन

हरियाण विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा बुधवार को मार्च-2019 में संचालित की गई सीनियर सैकेंडरी का परीक्षा परिक्षा घोषित किया गया। बोर्ड परिसर में आयोजित पत्रकार वार्ता में हरियाणा विद्यालय विद्यालय शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह एवं सचिव राजीव प्रसाद ने बताया कि परीक्षा का परिणाम 74.48 फीसदी रहा। उन्होंने बताया कि परीक्षा परिणाम में लड़कियों की पास प्रतिशत्ता लडक़ों के मुकाबले 14.47 प्रतिशत अधिक रही। उन्होंने बताया कि सीनियर सैकेंडरी स्वयंपाठी का परीक्षा परिणाम 57.61 प्रतिशत रहा।

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बोर्ड चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह एवं सचिव राजीव प्रसाद ने बताया कि परीक्षा परिणाम बुधवार को 3 बजे से बोर्ड वैबसाईट पर अपलोड कर दिया गया है, जिसे परीक्षार्थी बोर्ड वैबसाईट पर जाकर देख सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि परीक्षार्थी मोबाईल ऐप पर भी अपना परिणाम देख सकते हैं। चेयरमैन ने बताया कि परीक्षा परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन तक परीक्षार्थी पुर्न: मूल्यांकन हेतु ऑनलाईन आवेदन कर सकते हैं।

परीक्षा परिणाम की जानकारी देते हुए चेयरमैन ने बताया कि सीनियर सैकेंडरी परीक्षा में एक लाख 91 हजार 527 परीक्षार्थियों ने परीक्षा थी दी थी, जिसमें से एक लाख 42 हजार 640 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए है एवं 29 हजार 688 परीक्षार्थियों को कंपार्टमेंट आई। उन्होंने बताया कि परीक्षा में लड़कियों की पास प्रतिशत्ता 82.48 रही तो वही लडक़ों की पास प्रतिशत्ता 68.01 प्रतिशत रही। उन्होंने बताया कि मैरिक में लडक़ों के मुकाबले भी लड़कियों ने बाजी मारी।

बोर्ड चेयरमैन ने बताया कि परीक्षा में मैरिट में लड़कियों ने बाजी मारते हुए लडक़ों को पीछे छोड़ दिया। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में 75.74 पास प्रतिशत्ता तो शहरी क्षेत्र की पास प्रतिशत्ता 71.83 प्रतिशत रही। चेरयमैन ने बताया कि राजकीय विद्यालय की 76.39 प्रतिशत तो वही प्राईवेट विद्यालयों की पास प्रतिशत्ता 72.61 प्रतिशत रही।

Close