Breaking Newsपंजाबस्थानीय खबरेंहरियाणाहिमाचल प्रदेश

राइस मिलर्स पर लगाया नाजायज होल्डिंग चार्ज वापिस ले: प्रधान नरेश बंसल

एफ सी आई के कर्मचारियों की लेट लतीफी का दंड भी राइस मिलर्स पर होल्डिंग चार्ज लगाकर लिया जा रहा है,

Spread the love
तरावड़ी, (राजकुमार खुराना) 
तरावड़ी राइस मिलर्स एंड डीलर एसोसिएशन ने रोष जताया कि एसोसिएशन द्वारा हरियाणा खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग के निदेशक को दिसम्बर माह में पत्र लिखकर मांग की गई थी कि राइस मिलर्स को सी.एम.आर का चावल गोदाम में लगवाने के लिए बिना होल्डिंग चार्ज जून तक समय दे, परंतु उनकी मांग पर विभाग की ओर से कोई ध्यान नही दिया गया बल्कि एफ सी आई के कर्मचारियों की लेट लतीफी का दंड भी राइस मिलर्स पर होल्डिंग चार्ज लगाकर लिया जा रहा है, जबकि राइस मिलर्स अपना माल समय पर जमा करवाने के लिए तैयार थे, लेकिन सी.एम.आर. का माल जो कि 15 अक्तूबर 2018 से लेना था वह 15 नवम्बर से लेना शुरू किया जिस कारण से राइस मिलर्स अपनी मासिक चावल डिलीवरी का समय पर भुगतान नही कर पाया। राइस मिलर्स एसोसिएशन के प्रधान नरेश बंसल ने बताया कि अब जब राइस मिलर्स की मजदूरी मिलने का समय आया तो विभाग ने एफ. सी.आई कर्मचारियों पर लेट लतिफी का दंड राइस मिलर्स की मजदूरी में से होल्डिंग चार्ज लगाकर काट लिया। जिसके बाद से राइस मिलर्स में भारी रोष है। तरावड़ी राइस मिलर्स ने आज एक बैठक कर इस बारे में फैसला लिया कि यदि विभाग ने राइस मिलर्स पर लगाया नाजायज होल्डिंग चार्ज वापिस न लिया तो वह मजबूरन धरना व प्रदर्शन करेगे। एसोसिएशन के सदस्यो ने कहा कि मिलर्स की समस्या से सभी अधिकारी व मंत्रीमंडल पूरी तरह वाकिफ है, लेकिन राइस मिलर्स की समस्या के समाधान के लिए किसी ने भी कोई ठोस कदम नही उठाया। जहां एक ओर राइस मिलर्स सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनका सहयोग करने को तैयार है तो वहीं दूसरी तरफ सरकार इन्हीं राइस मिलर्स की अनदेखी कर रही है। एसोसिएशन ने कहा कि गेहूं का सीजन होने के कारण एफ.सी.आई के कर्मचारी व लेबर व्यस्त है, इसलिए चावल भुगतान का समय बिना किसी होल्डिंग चार्ज के जून तक बढाया जाए। इस अवसर पर राकेश हंस, संजीव कुमार, राकेश कुमार, जोगेंद्र गुप्ता, कृष्ण चंद व अनिल कुमार मुख्य रूप से उपस्थित थे।

Close