Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsराजनीतीसभी खबरेंस्थानीय खबरें

दीपेंद्र को रोहतक में टक्कर दे सकते हैं दुष्यंत- जेजेपी में चल रहा है जबरदस्त मंथन

Spread the love
152 Views

अगर दुष्यंत चौटाला को राज्य स्तर पर राजनीती पर पकड़ बढ़ानी है तो रोहतक और सोनीपत लोकसभा क्षेत्रों पर मजबूत पकड़ करनी जरूरी है।

दीपेंद्र हुडा और दुष्यंत चौटाला आमने सामने हुए तो कितना रोमांचक होगा यह मुकाबला

 

नवगठित पार्टी जेजेपी के कर्ता-धर्ता व हिसार से इनेलो के विद्रोही सांसद दुष्यंत चौटाला इस बार रोहतक लोकसभा का रुख कर सकते हैं। इस खबर से बीजेपी के साथ कांग्रेस के हुड्डा खेमें में खलबली मची है। दुष्यंत के रोहतक से चुनाव लड़ने की संभावना मात्र से राजनीति के समीकरणों के जोड़ घटा का आंकलन भी शुरू हो गया है।

चंडीगढ़ : जेजेपी के अंदरूनी सूत्रों के साथ पार्टी का आम कार्यकर्ता भी मानता है कि दुष्यंत चौटाला में अपने दादा स्व. चौ. देवीलाल के सारे गुण विद्यमान हैं। उसे देवीलाल कि प्रतिमूर्ति भी कहा जा रहा है। चौ. देवीलाल के लिए पूरा हरियाणा एक समान था वे कहीं से भी चुनाव लड़ने से कभी नहीं कतराए। महम, फतेहाबाद, तोशाम व आदमपुर से विस और रोहतक, सोनीपत ( हरियाणा) सीकर (राजस्थान ) के अतिरिक्त अबोहर फाजिल्का(Punjab) से लोक सभा चुनाव लड़े।जिस से चौ. देवीलाल प्रदेश के ही नहीं वरन राष्ट्रिय नेता के तौर पर स्थापित हुए । हार जीत भी उनके लिए कोई मायने नहीं रखती थी। उनकी इसी खासियत ने उनको राष्ट्रिय स्तर का नेता का रुतबा दिलवाया।

ऐसे में हार जीत के भय से मुक्त होकर चौ. देवीलाल के कहीं से भी चुनाव लड़ने के गुण को जेजेपी समर्थक दुष्यंत चौटाला में भी देखना चाहता है।
जेजेपी के सूत्रों से मिली जानकारी भी इस और संकेत करती है कि अगर दुष्यंत चौटाला को राज्य स्तर पर राजनीती पर पकड़ बढ़ानी है तो रोहतक और सोनीपत लोकसभा क्षेत्रों पर मजबूत पकड़ करनी जरूरी है।

जींद विधान सभा उप चुनाव में इस कि शुरुवात हो भी चुकी है। जेजेपी ने जींद में दिग्विजय चौटाला को मैदान में उतारने की रणनीति को जींद की जीत के लक्ष्य के साथ सोनीपत लोकसभा क्षेत्र में राजनैतिक जमीन तैयार करना भी था। चूँकि जींद में सफलता नहीं मिली लेकिन जींद विधान सभा क्षेत्र सोनीपत लोकसभा क्षेत्र का अहम हिस्सा होने के कारण लोकसभा की तैयारी में बड़ा लाभ दिग्गविजय को मिला है। इस लिए माना जा रहा है कि सोनीपत लोकसभा से दिग्विजय ही जेजेपी के उम्मीदवार होंगे ।

 

राजनैतिक पंडितों का मानना है कि दुष्यंत चौटाला को खुद को साबित करने के लिए कांग्रेस के सबसे ताकतवर नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा को उस के घर में जाकर ललकारना बड़ी राजनैतिक घटना होगी। इसकी कल्पना मात्र से राजनीती में रोमांच बढ़ जाता है, सोचिये अगर हकीकत में दीपेंद्र हुडा और दुष्यंत चौटाला आमने सामने हुए तो कितना रोमांचक होगा यह मुकाबला।
राजनीति में कब क्या उलटफेर हो जाये कुछ कहा नहीं जा सकता इसके बावजूद रोहतक से दीपेंद्र को हराना दुष्यंत के लिए असंभव नहीं तो मुश्किल जरूर है। पर मुश्किलों से लड़ना ही सफलता का रास्ता है।

Related Articles

Close