Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
राजस्थानशिक्षा

बेटियों ने बढ़ाया जिले का मान प्रशासन ने दिया माता-पिता सहित सम्मान

Spread the love
45 Views

जिले का मान बढ़ाने वाली बेटियों और उनके अभिभावकों का भव्य कार्यक्रम आयोजित कर जिला प्रशासन ने किया सम्मान
करीब 80 बेटियों और उनके माता-पिता का किया गया सम्मान
मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत यात्रा पश्चिमालाप कार्यक्रम का हुआ आयोजन
पांच राज्यों के 93 कलाकारों ने दी शानदार सांस्कृतिक प्रस्तुति

हनुमानगढ़, 21 जनवरी। जिले का मान बढ़ाने वाली बेटियों और उनके माता-पिता का सम्मान समारोह सोमवार को जंक्शन के बैबी हैप्पी मॉर्डन कॉलेज में आयोजित किया गया। जिसमें जिले का मान बढ़ाने वाली करीब 80 बेटियों और उनके माता-पिता का जिला प्रशासन और महिला अधिकारिता विभाग ने प्रशस्ति पत्र और मूमेंटो देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन, जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री ज्ञानप्रकाश गुप्ता और सीजेएम सुश्री आशा चौधरी के अलावा सीईओ जिला परिषद श्री नवनीत कुमार,एडीएम श्री प्रभातीलाल जाट, सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती अनुभूति मिश्रा, अतिरिक्त सिविल न्यायधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट सुश्री राधिका सिंह चारण, ग्राम न्यायालय की न्यायाधिकारी सुश्री सुमन चौधरी और एसडीएम श्री सुरेन्द्र सिंह पुरोहित थे। खास बात ये भी कि कार्यक्रम में चार महिला जजों से मिलकर बेटियां भी गौरान्वित महसूस कर रही थी। इस दौरान जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने उपस्थित जनसमूह को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की शपथ भी दिलाई। मंच संचालन वरिष्ठ कवि और आकाशवाणी सूरतगढ़ के श्री राजेश चढ्ढा, पक्का सहारणा की राजकीय बालिका सीनियर सैकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती सतिन्द्र कौर कलसी, शाहपीनी के राजकीय बालिका सीनियर सैकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती सुमन बिश्नोई ने किया।
कार्यक्रम में मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत पांच राज्यों राजस्थान, महाराष्ट्र, गोवा, गुजरात और दमन व दीप के 93 कलाकारों ने भव्य सांस्कृतिक प्रस्तुति दी। जिसमें रजविंदर कौर कला दल के 15 सदस्यों ने गिद्दा, श्री जावेद हरियाणवी कला दल के 15 कलाकारों ने घूमर नृत्य, श्रीमती सीमा पत्नी श्री जीवन दास कला जत्थे ने तेराताली, गोवा का देखनी व समई नृत्य इत्यादि की भव्य प्रस्तुति दी गई। पांचों राज्यों के कलाकार मंगलवार को संगरिया में कार्यक्रम देंगे। 25 जनवरी को गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर टाउन के रामलीला रंगमंच और 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के जिला स्तरीय कार्यक्रम में भी प्रस्तुति देंगे।मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन के विशेष प्रयास से पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र उदयपुर ने पांच राज्यों के 93 कलाकार को जिले में प्रस्तुति के लिए भेजा है। जो 20- 26 जनवरी तक सभी तहसील मुख्यालय पर भव्य प्रस्तुति देंगे।


महिला अधिकारिता विभाग की सहायक निदेशक श्रीमती शकुतला चौधरी ने बताया कि कार्यक्रम मेें जिले का मान बढ़ाने वाली बेटियों और उनके माता पिता को बुलाया गया था। जिसमें पिछले दो साल में पदमाक्षी पुरस्कार प्राप्त करने वाली बेटियों के अलावा विभिन्न क्षेत्रों में जिले का नाम कमाने वाली बेटियों और उनके माता-पिता को पुरस्कृत किया गया। बेटियां अगर नहीं आ सकीं तो उनके माता-पिता ने बेटियों का पुरस्कार प्राप्त किया। खास बात ये कि होनहार बेटियों के माता-पिता खुद भी पुरस्कार प्राप्त कर गदगद महसूस कर रहे थे। गौरतलब है कि जिले में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान को लेकर शानदार कार्य होने पर राष्ट्रीय स्तर पर भी हनुमानगढ़ जिले को 24 जनवरी को दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय कार्यक्रम में सम्मानित किया जाएगा। जिसमें जिले के तत्कालीन जिला कलक्टर श्री दिनेश चंद जैन और वर्तमान कलक्टर श्री जाकिर हुसैन को आमंत्रित किया गया है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान देशभर के कुल 441 जिलों में चल रहा है जिसमें से मात्र 25 जिलों को सम्मानित किया जा रहा है। जिसमें राजस्थान के मात्र दो ही जिलों हनुमानगढ़ और झुंझुनूं का चयन हुआ है।
कार्यक्रम में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन, जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री ज्ञानप्रकाश गुप्ता, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुश्री आशा चौधरी, सीईओ जिला परिषद श्री नवनीत कुमार, एडीएम श्री प्रभातीलाल जाट, सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती अनुभूति मिश्रा, अतिरिक्त सिविल न्यायधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट सुश्री राधिका सिंह चारण, ग्राम न्यायालय की न्यायाधिकारी सुश्री सुमन चौधरी, एसडीएम श्री सुरेन्द्र सिंह पुरोहित, बैबी हैप्पी कॉलेज के निदेशक श्री तरूण विजय, श्री आशीष विजय, सीएमएचओ डॉ अरूण चमड़िया, महिला अधिकारिता की सहायक निदेशक श्रीमती शंकुतला चौधरी , जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री हरीश मित्तल, पीआरओ श्री सुरेश बिश्नोई, टीओ श्री महादेव बलारा, सीओ पुलिस श्री वीरेन्द्र जाखड़, सीएमएचओ डॉ अरूण चमड़िया, डीईओ माध्यमिक श्री हरलाल हुड्डा, एडीईओ श्री रणवीर शर्मा, तहसीलदार हनुमानगढ़ श्री वेदप्रकाश, नगर परिषद कमीश्नर श्री शैलेन्द्र गोदारा, नगर परिषद की उपसभापति नगीना बाई, कृषि उपज मंडी चेयरमैन श्री रामेश्वर चांवरिया, पीसीपीएनडीटी के स्टेट कॉर्डिनेटर श्री निहाल बिश्नोई, सीडीपीओ संगरिया श्रीमती रेणू चौधरी, श्रीमती गुलाब सींवर समेत बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित थे।
पुरस्कार प्राप्त करने वाली बेटियों व उनके मां व पिता के नाम——
कार्यक्रम में सम्मानित होने वालों में आरपीएस विजेता की मां श्रीमती बसंती और पिता श्री वीरेन्द्र जाखड़, जूडो प्लेयर अलीषा चौधरी की माता श्रीमती विमला और पिता श्री धर्मवीर नैण, जूडो कोच कुलविंद्र कौर की माता श्रीमती सुखदेव कौर और पिता श्री जगजीत सिंह, रग्बी प्लेयर संतोष वर्मा और उनकी मां श्रीमती गोरां देवी और पिता श्री साहब राम, होर्स राइडिंग की गोल्ड मेडलिस्ट श्रीमती रेखा भाादू और उनकी मां श्रीमती रामेश्वरी देवी और पिता श्री चुन्नीलाल भादू, प्रथम को-पायलट पारूल शेखावत व उनकी मां श्रीमती प्रभात कंवर व पिता श्री नरपत सिंह शेखावत, पशुपालन विभाग की प्रथम महिला ड्राईवर रचना शर्मा व उनकी मां श्रीमती अनिता शर्मा व पिता श्री पवन कुमार शर्मा, क्रिकेट की राष्ट्रीय खिलाड़ी श्वेता बिश्नोई और उनकी मां श्रीमती उषा बिश्नोई, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की संगरिया की ब्रांड एंबेसडर मनीषा चौधऱी व उनकी मां श्रीमती सरोज कूंकणा व पिता श्री भूपसिंह कूंकणा,डीटीओ सुमन डेलू की मां श्रीमती सावित्री व पिता श्री भागीरथ, जेसीटीओ नीतू सारस्वत व उनकी मां श्रीमती पुष्पा सारस्वत व पिता नरेन्द्र सारस्वत, आरएएस निशा सहारण के मां पार्वती देवी व पिता रामकुमार सहारण, एशियाड प्लेयर निशा शर्मा की मां कांता देवी व पिता नरेन्द्र शर्मा, आरएएस मोनिका बलारा की मां कृष्णा व पिता महादेव बलारा, वॉलीबॉल की अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी सुमन भांभू की मां सुनीता व पिता आत्माराम, बीबीबीपी पीलीबंगा की ब्रांड एबेसडर ईशा गुप्ता की मां पिंकी गुप्ता व पिता तरसेम लाल, यूपीएससी ईएसई लेवल में आल इंडिया 12 रैंक धारी राजविंदर कौर की मां परमजीत व पिता पाल सिंह, क्रिकेट की रणजी प्लेयर आरजू बिश्नोई व उनकी मां मधुबाला व पिता ओमप्रकाश, बीबीबीपी नोहर की ब्रांड एंबेसडर सुष्मिता पारीक व उनकी मां पुष्पलता व पिता शिवशंकर पारीक, संगरिया की सीडीपीओ रेणु चौधरी व उनकी मां लीलावती व पिता संतलाल, वॉलीबाल की अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी सुखबीर कौर की मां परमजीत कौर व पिता सोहन सिंह, सीएमए इंटर में जयपुर चैप्टर में प्रथम स्थान प्राप्त डिंपल सहारण व उनकी मां रश्मि चौधऱी व पिता योगेश कुमार सहारण का प्रशस्ति पत्र व मूमेंटो देकर सम्मान किया गया। इसके अलावा पिछले दो सालों में पदमाक्षी पुरस्कार प्राप्त करने वाली 43 बेटियों व उनकी मां व पिता का सम्मान किया गया। गौरतलब है कि पदमाक्षी पुरस्कार प्राप्त करने बारहवी कक्षा की बेटियों को 1 लाख व स्कूटी, 10 वीं में पदमाक्षी प्राप्त करने वाली बेटियों को 75 हजार और 8 वीं पदमाक्षी प्राप्त करने वाली बेटियों को 40 हजार का पुरस्कार दिया जाता है।

Related Articles

Close