Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
हरियाणा

एचएसआईआईडीसी में 484 करोड़ से 161 एकड़ भूमि में बनेगा रेल कोच कारखाना

Spread the love
35 Views
रणबीर रोहिल्ला, सोनीपत। एचएसआईआईडीसी परिसर बड़ी में  शुरुआती चरण में 484 करोड़ रुपये की लागत से 161 एकड़ भूमि में बनाये जाने वाले रेल कोच नवीनीकरण कारखाना का सांसद रमेश कौशिक ने शुक्रवार को विधिवत रूप से भूमि पूजन कर निर्माण कार्य का प्रारंभ किया। इस दौरान उन्होंने बताया कि शुरुआती दौर में प्रति वर्ष यहां 250 करोड़ रुपये की लागत से 250 एलएचबी कोच बनाये जायेंगे। बाद के वर्षों में यहां हर वर्ष 1000 करोड़ रुपये के बजट से 1000 एलएचबी कोच का नवीनीकरण किया जाएगा।
भूमि पूजन कर रेल कोच नवीनीकरण कारखाना निर्माण के लिए पहली ईंट रखते हुए सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि हरियाणा के गठन के बाद प्रदेश को रेलवे की यह पहली परियोजना मिली है। इससे गन्नौर ही नहीं अपितु समस्त जिले के विकास को नई दिशा मिलेगी। उन्होंने कहा कि भूमि पूजन मुख्यमंत्री मनोहर लाल के हाथों कराया जाना था, किंतु दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में व्यस्तता के चलते वे समय नहीं दे पाये। ऐसे में रेल परियोजना के जल्द पूरा करवाने के उद्देश्य से भूमि पूजन का यह कार्यक्रम उन्हें करना पड़ा है। आगामी वर्ष 2019 में ही रेल कोच नवीनीकरण कारखाना बनकर तैयार हो जाएगा। सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि आज गन्नौर के लिए ऐतिहासिक क्षण है। रेल कोच कारखाना से हलके का विकास गुरूग्राम से बढकऱ होगा। केवल एक कंपनी ने गुरूग्राम के विकास को आसमान की ऊंचाइयों पर पहुंचा दिया था। रेल कोच कारखाना तो उस कंपनी से कई गुणा बड़ी परियोजना है। राई हलके में भी केएमपी व केजीपी एक्सप्रेस वे से विकास को नये आयाम मिले हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-1 को 12 लेनमार्गी किया जा रहा है। हजारों करोड़ों रुपये की इन परियोजनाओं ने क्षेत्र के विकास को नये आयाम दिये हैं। सांसद बनने के बाद उनके द्वारा कराये गये विकास कार्यों का संक्षिप्त ब्यौरा देते हुए सांसद ने कहा कि सोनीपत-गोहाना-जींद रेलवे लाइन पर एक ही वर्ष में तीन रेल चलवाना एक रिकॉर्ड है। उन्होंने औद्योगिक क्षेत्र बड़ी के विकास की भी जानकारी देते हुए कहा तत्कालीन मुख्यमंत्री बंसीलाल के हाथों यह क्षेत्र बसवाया गया था। सांसद ने कहा कि सोनीपत जिले की हर बड़ी परियोजना में उनका हाथ अवश्य रहा है। इसके अलावा उन्होंने एचएसआईआईडीसी परिसर में ईएसआई डिस्पेंसरी संबंधी मांग को भी पूरा करवाने का आश्वासन दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि रेल कोच नवीनीकरण कारखाना से क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिलेगा।  इस दौरान उत्तर रेलवे के पीसीएमई अशोक अरोड़ा ने बताया कि सांसद रमेश कौशिक की कड़ी मेहनत की बदौलत गन्नौर में रेल कोच नवीनीकरण कारखाना की सौगात मिली है। इसके अलावा उन्होंने जानकारी दी कि वर्ष 2014 के बाद से रेलवे ने हरियाणा में 6578 करोड़ रुपये की लागत से नई रेल लाइन बिछाने का कार्य किया है। प्रदेश में रेलवे कार्य 315 करोड़ से बढकऱ 708 करोड़ पर पहुंचे हैं। हरियाणा के 26 रेलवे स्टेशनों को वाई-फाई की सुविधायुक्त किया गया है। साथ ही 19 आरओबी तथा 125 आरयूबी बनाये गये हैं।
रेलवे की प्रदर्शनी का सांसद ने किया अवलोकन
रेल कोच नवीनीकरण कारखाना के भूमि पूजन के मौके पर उत्तर रेलवे ने एक प्रदर्शनी का आयोजन भी किया, जिसका सांसद रमेश कौशिक ने नारियल तोडकर शुभारंभ किया। सांसद ने प्रदर्शनी का रूचिपूर्वक अवलोकन किया। प्रदर्शनी मेेंं रेलवे की नई उपलब्धियों को प्रमुखता से दर्शाया गया, जिसमें नई रेल हमसफर, तेजस व एसी 3 टियर कोच प्रदर्शित किये गये। इस दौरान एक डॉक्यूमैंट्री भी दिखाई गई, जिसमें रेलवे की नवीनतम उपलब्धियों को दर्शाते हुए रेल कोच नवीनीकरण कारखाना के फायदों की जानकारी भी दी गई। इस मौके पर एसडीएम सुरेंद्रपाल, डीएसपी संदीप मलिक, रेलवे के पीसीएमई अशोक अरोड़ा, एडीआरएम नवीन, अनुपम, हैप्पी वालिया, अजय पांडया, डा. रामकिशन सरोहा, शमशेर शर्मा, ईश्वर कश्यप, जयदीप मलिक, मनिंद्र सन्नी, सुनील शर्मा आदि गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Related Articles

Close