Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Breaking Newsउत्तर प्रदेशक्राइम

बुलंदशहर हिंसा: गांव के प्रधान ने बताया : बाहर से आये थे उपद्रवी मुस्लिम समाज के एक कार्यक्रम में आने वाले लोगों को रोकने का था प्रयास

Spread the love
17 Views

बुलंदशहर हिंसा अपडेट-मौके से घटना के निशान मिटाते कैमरे पर दिखे पुलिसकर्मी?एसआईटी जांच से पहले हटाई गई हिंसा की चपेट में आई गाड़ियां–
👉बड़ी साजिश का शक-गांव के प्रधान ने बताया कि आसपास के गांवो के कोई लोग नही थे,किसी और ही जगहं से आये थे उपद्रव करने वाले लोग,घटनास्थल से कई किलोमीटर दूरी पर मुस्लिम समाज का एक बड़ा कार्यक्रम चल रहा था,जिसमे आये हुए लोगों ने उसी रास्ते से जाना था,जिसे जाम करने का प्रयास किया जा रहा था,हो सकता है कि हिंसा को कहीं और ले जाने की भी कथित साजिश हो सकती है।
बुलंदशहर हिंसा-एक ही राजनीतिक परिवार के आरोपी?
बुलंदशहर हिंसा मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है. आज एसआईटी ने भी घटनास्थल का दौरा किया. पुलिस की एफआईआर में में बजरंग दल-वीएचपी और BJYM के कार्यकर्ताओं का भी नाम है.
इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या के मामले में 27 लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की गई है. उसमें पहले नंबर पर बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज का नाम है. बीजेपी युवा स्याना के नगराध्यक्ष शिखर अग्रवाल, वीएचपी कार्यकर्ता उपेंद्र राघव को भी किया नामजद किया गया है।
अखलाक हत्या केस की सुबोध ने की थी निष्पक्ष जांच,कुछ हिन्दू संगठन देते रहे हैं धमकियां
बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध सिंह ने ही गोरक्षकों के हमलों के शिकार बने अखलाक केस की जांच की थी
दादरी के बिसाहड़ा में अखलाक की आज से करीब तीन साल पहले गोमांस रखने के शक में भीड़ ने घर में घुसकर पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. इस मामले की बुलंदशहर हिंसा में मारे गए सुबोध कुमार सिंह जांच कर चुके हैं….

Related Articles

Close