Breaking News देश हरयाणा

नकली नोट छापते पकड़े गए , कंप्यूटर ,प्रिंटर भी बरामद

सिरसा में नकली करेंसी छापने वाला गिरोह 40 हजार की नकदी समेत काबू
तीस हज़ार की करेंसी मार्किट में खपा चुके

राजेंद्र कुमार

सिरसा, 13 जून। हरियाणा में सिरसा पुलिस ने नकली करेंसी बनाने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए 40 हजार की नकली करेंसी बरामद की है। गिरोह के दो सदस्यों को

सिरसा के चतरगढ़ पट्टी क्षैत्र से काबू करते हुए उनके कब्जा से पुलिस ने  नकली करेंसी बनाने में उपयोग होने वाले कंप्यूटर, प्रिंटर व अन्य उपकरण बरामद किए है। इस गिरोह ने

30 हजार की नकली करेंसी बाजार में चला दी है। यह जानकारी आज यहां पुलिस अधीक्षक हामीद अख्तर ने एक प्रैसवार्ता के दौरान दी।
पुलिस अधीक्षक हामीद अख्तर ने बताया कि उन्हें महत्त्वपूर्ण सूचना मिली की सिरसा में नकली करेंसी छापने का कारोबार चल रहा है। सूचना के आधार पर स्पेशल एंटी नारक

ोटिक्स सेल के प्रभारी इंस्पैक्टर अजय कुमार की अगुवाई में एक पुलिस टीम गठित कर चतरगढ़ पट्टी में बलवंत पुत्र बृज लाल के घर दबिश दी गई तो वहां उसका साथी विनोद

पुत्र भीमराज निवासी गांव नेजाडेला भी था,पुलिस के तलाशी लेने के दौरान उसके घर से 40 हजार रूपयों की नकली करेंसी व 54 हजार रूपए तैयार करते हुए काबू किए गए। 54

हजार रूपयों को एक तरफ से छापा जा चुका था जबकि दूसरे ओर की छपाई का काम चल रहा था। सारी करेंसी में सौ-सौ के नोट थे। मौके से एक कंप्यूटर, एक प्रिंटर एक सीपीयू,

वायर, नकली नोट बनाने के उपकरण व नोट बनाने का विशेष कागज बरामद कर लिया गया।
पुलिस को पूछताछ में विनोद व बलवंत ने बताया कि इस गिरोह का तीसरा साथी जिसे बिहारी के नाम से संबोधित किया जाता है कहीं बाहर गया हुआ है। आरोपियों ने पुलिस

पूछताछ में बताया है कि वह अब तक करीब 70 हजार रुपये के नकली करंसी नोट  बना चुके है,अब से पहले उन्होंने 30 हजार की नकली करेंसी बाजार में चला दी है। इस करेंसी

को बाजार में चलाने का काम बिहारी ने ही किया है। यह गिरोह सिरसा में माहभर से नक ली करेंसी छापने का काम छेड़े हुए था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपियों के

खिलाफ शहर थाना सिरसा में 489ए, 489बी, 489सी, 489डी व आईपीसी 420 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। पकड़े गए गिरोह के तीसरे साथी बिहारी

की पहचान हो गई है जिसे शीघ्र ही काबू कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *